• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • The Municipal Corporation Has Been Very Negligent In The Development Works, Even After 31 Months Of Getting The Work, The Contractors Did Not Start The Work, The Work Of The Minister Of State Also Hanged For Two And A Half Years. Kanpur Nagar Nigam, Jay Kumar Singh, Development Works, Hemant Vihar, Juhi, Barra 2, Speed Breaker, Kanpur

कानपुर...टेंडर लेकर गायब हुए ठेकेदार:नगर निगम ने ठेकेदारों को दिया नोटिस, ढाई साल से राज्य मंत्री जयकुमार जैकी का भी प्रस्तावित कार्य लटका

कानपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अब विभागीय अधिकारियों द्वारा ठेकेदारों को पहला नोटिस जारी किया गया है। - Dainik Bhaskar
अब विभागीय अधिकारियों द्वारा ठेकेदारों को पहला नोटिस जारी किया गया है।

कानपुर नगर निगम में ठेकेदार से लेकर विभागीय अधिकारी तक लापरवाह हैं। ठेकेदार को टेंडर मिलने के बाद भी ढाई साल से अधिक समय बीत जाने के बाद भी काम शुरू नहीं कराया गया। वहीं अब विभागीय अधिकारियों द्वारा पहला नोटिस जारी किया गया है। नगर निगम में ऐसे में 20 ठेकेदारों को नोटिस जारी किया गया है। जिन्होंने टेंडर लेने के बाद काम शुरू या तय समय में खत्म नहीं किया। इससे करोड़ों रुपए के विकास कार्य बाधित हैं और क्षेत्रीय जनता भी काफी परेशान है।

ढाई साल से नहीं लग पाए स्पीड ब्रेकर

नगर निगम ने 22 फरवरी 2019 को दिलराज एसोसिएट को टेंडर के माध्यम से काम दिया था। इस कार्य में जूही स्थित जीपीजी स्कूल वाली रोड पर स्पीड ब्रेकर लगवाए जाने थे। स्कूल के बाहर हो रहे हादसों को देखते हुए स्पीड ब्रेकर लगाए जाने थे। लेकिन ठेकेदार द्वारा 31 महीने बीत जाने के बाद भी काम शुरू नहीं किया गया। वहीं अब नगर निगम ने पहला नोटिस जारी कर खानापूर्ति शुरू कर दी है। 3 दिन में काम शुरू न करने पर अर्थदंड लगाया जाएगा।

मंत्री का काम भी नहीं हुआ

प्रदेश में जेल राज्य मंत्री जयकुमार जैकी के ऑफिस के बाहर इंटरलॉकिंग टाइल्स और फुटपाथ का सुधार कार्य होना था। 8 मार्च 2019 को ठेकेदार दर्शिनी इंटरप्राइजेज को नगर निगम ने काम दिया। लेकिन ढाई साल बीत जाने के बाद भी ठेकेदार ने काम शुरू नहीं किया। वहीं अधिशाषी अभियंता ने ठेकेदार को 3 दिन में काम पूरा करने के लिए नोटिस थमाया है।

16 महीने में नहीं बनी रोड

एमआईजी सेक्टर-4 बर्रा-2 में इंटरलॉकिंग रोड बननी थी। 21 मई 2020 को ठेकेदार गुप्ता ब्रदर्स की फर्म को टेंडर के माध्यम से काम अलॉट किया गया था। लेकिन 16 महीने बाद अभी तक ठेकेदार ने रोड नहीं बनवाई। अब नगर निगम ने ठेकेदार को 3 दिन में रोड बनवाने के लिए नोटिस दिया है। मामले में चीफ इंजीनियर एसके सिंह ने बताया कि विकास कार्य में लापरवाही करने वाले ठेकेदारों को ब्लैक लिस्ट कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

10 महीने बाद भी नहीं ढका नाला

हेमंत विहार से विवेकानंद स्कूल के पास एमआईजी-6 से एमआईजी-11 तक आरसीसी पत्थर ढालकर नालों को ढकने का कार्य होना था। 16 दिसंबर 2020 को दर्शिनी इंटरप्राइजेज प्रा. लि. को टेंडर मिला। लेकिन अभी तक कार्य शुरू नहीं किया गया। इससे क्षेत्रीय जनता लगातार खुले मेनहोल से परेशान है। इसी प्रकार बाबा भोलेनाथ बिल्डर्स समेत अन्य को नोटिस जारी किया गया है।

खबरें और भी हैं...