नगर निगम सदन में हंगामा:सपा पार्षदों ने कहा अधिकारियों की लचर कार्यप्रणाली सपा को सत्ता में लाने की राह आसान कर रही

कानपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नगर निगम सदन की कार्यवाही के ब� - Dainik Bhaskar
नगर निगम सदन की कार्यवाही के ब�

मंगलवार को नगर निगम सदन की कार्यवाही में जोरदार हंगामा हुआ। एक तरफ जहां अधिकारी किए गए कार्यों का जवाब नहीं दे पाए। वहीं सपा के उपनेता सदन सोहल अंसारी ने ये कहकर हंगामा खड़ा कर दिया कि अधिकारियों का लचर रवैया सपा को पूर्ण बहुमत से सत्ता में लेकर आएंगे। ये सुनते ही भाजपा पार्षदों ने योगी और मोदी के नारे लगाना शुरू कर दिया। विपक्षी पार्षदों ने इसके विरोध में मुर्दाबाद के नारे लगाए। भाजपा पार्षद विकास जायसवाल ने कहा कि अधिकारियों का रवैया अगर नहीं सुधरेगा तो पार्षद दो-दो हाथ करने को तैयार हैं।

अधिकारी नहीं दे पाए जवाब

सदन की कार्यवाही में अधिकारियों की लचर कार्यों को लेकर महापौर प्रमिला पांडेय ने पूछा कि पिछली दिवाली में सदन से सभी वार्डों के लिए दस-दस रोड लाइट दी गई थी, अब तक क्यों नहीं लगी। वार्डों में सफाई कर्मी क्यों नहीं बढाए गए, नाला सफाई अभी तक पूरी क्यों नहीं हो पाई। इस पर नगर आयुक्त भी जवाब नहीं दे पाए।

पानी के लिए उतारे कपड़े

शहर में जलसंकट को लेकर कांग्रेसी पार्षद जेपी पाल ने कपडे उतारकर प्रदर्शन किया। इस पर महापौर ने कडी आपत्ति जताई और कहा कि सदन में महिलाएं भी हैं, कपड़े पहनकर अपनी बात रखें।

पार्षदों ने पार्षदों नेे हैंडपंप लेकर किया प्रदर्शन।
पार्षदों ने पार्षदों नेे हैंडपंप लेकर किया प्रदर्शन।

हैंडपंप लाने पर एफआईआर

सपा पार्षद अतुल यादव और साथी पार्षदों ने सदन में पानी की समस्या को लेकर हैंडपंप लेकर प्रदर्शन किया। इस पर महापौर ने सदन में ही सपा पार्षदों पर एफआईआर दर्ज कराने के आदेश दिए। महापौर ने कहा कि पार्षद सरकार संपत्ति का नुकसान कर रहे हैं।

विपक्ष के उपनेता सदन ने हाउस टैक्स को लेकर कहा कि चुनाव लड़ने के लिए नगर निगम ने कोई हाउस टैक्स की बकाया न होने की एनओसी दी, लेकिन अब बताया जा रहा है कि मेरा हाउस टैक्स बकाया है और नोटिस भेजा गया। इस लिहाज से मैंने चुनाव आयोग को गलत जानकारी दी। अधिकारी जवाब दें कि इसमें किसकी गलती है।

खबरें और भी हैं...