• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • The Video Was Made Viral Against Akhilesh Yadav On The Bua babua Page On Facebook, The District Vice president Of The Advocate Sabha Filed A Report.

UP में फेसबुक CEO मार्क जुकरबर्ग पर FIR:सोशल साइट पर बनाए गए बुआ-बबुआ पेज को लेकर कन्नौज में हुई कार्रवाई; कैलिफोर्निया भी भेजी गई रिपोर्ट

कानपुर/कन्नौज7 महीने पहले

फेसबुक के CEO मार्क जुकरबर्ग के खिलाफ उत्तर प्रदेश के कन्नौज में FIR दर्ज की गई है। कोर्ट के आदेश पर दर्ज हुए केस में जुकरबर्ग के अलावा 48 अन्य लोगों को भी आरोपी बनाया गया है। यह FIR फेसबुक पर बुआ-बबुआ के नाम से चल रहे पेज पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की छवि खराब करने वाली पोस्ट को लेकर दर्ज की गई है। फेसबुक के मुख्य कार्यालय कैलिफोर्निया में भी इसकी रिपोर्ट भेजी गई है।

ठठिया थाना के सरहटी गांव में रहने वाले सपा अधिवक्ता सभा के जिला उपाध्यक्ष अमित यादव ने FIR दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि फेसबुक पर बुआ-बबुआ के नाम से पेज है। इसमें अखिलेश यादव के खिलाफ कार्टून और वीडियो बनाकर पोस्ट किए जा रहे हैं। वीडियो में अखिलेश यादव के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया जा रहा है। इससे उनकी और समाजवादी पार्टी की इमेज खराब हो रही है।

मार्क जुकरबर्ग फेसबुक के CEO हैं। उसका मुख्य कार्यालय कैलिफोर्निया के मेलियो पार्क सिटी में है।
मार्क जुकरबर्ग फेसबुक के CEO हैं। उसका मुख्य कार्यालय कैलिफोर्निया के मेलियो पार्क सिटी में है।

कोर्ट के आदेश पर दर्ज हुआ केस
पहले अमित यादव ने 20 मई को थाने में शिकायत की। लेकिन सुनवाई नहीं हुई। इसके बाद 25 मई को पुलिस अधीक्षक को रजिस्ट्री के जरिए शिकायत भेजी। लेकिन फिर भी रिपोर्ट नहीं दर्ज हुई। फिर 22 नवंबर को कोर्ट में अर्जी दाखिल की। 29 नवंबर को कोर्ट ने ठठिया थाने को FIR दर्ज करने का आदेश दिया।

फेसबुक पर बुआ-बबुआ पेज पर विपक्षी पार्टियों से जुड़े कंटेंट अपलोड किए गए हैं।
फेसबुक पर बुआ-बबुआ पेज पर विपक्षी पार्टियों से जुड़े कंटेंट अपलोड किए गए हैं।

पेज संचालक और इसे लाइक-कमेंट-शेयर करने वाले आरोपी
इसमें फेसबुक CEO, बुआ-बबुआ पेज संचालक और इसे लाइक-कमेंट व शेयर करने वाले कुल 49 लोग दोषी हैं। कोर्ट ने इसी आधार पर ठठिया थाने में FIR दर्ज करने का आदेश दिया। ठठिया थाना प्रभारी प्रयाग नारायण बाजपेई ने बताया कि IT एक्ट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज हुआ है। साइबर सेल की मदद से सबूत इकट्ठे किए जाएंगे। साथ ही एक रिपोर्ट इस पेज को बंद कराने के लिए फेसबुक के मुख्य कार्यालय कैलिफोर्निया में भेजी गई है। वहां से जवाब आने के बाद आगे की कार्रवाई होगी।

खबरें और भी हैं...