• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • To Prevent Delay In Coal Freight Trains, Round The Clock Monitoring Is Being Done By The Officers In The Control Rooms, Top Officials Are Taking The News Of Every Moment.. Kanpur

रेलवे की आपात निर्देश कोल रेक का हो निर्बाध परिचालन:कोल मालगाडियों के विलंबन को रोकने के लिए अधिकारियों द्वारा की जा रही नियंत्रण कक्षों में चौबीसों घंटे मॉनिटरींग, शीर्ष अधिकारी ले रहे है हर पल की खबर

कानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

विधुत ताप परियोजनाओं में निर्बाध कोयला आपूर्ति के लिये रेलवे ने कमर कस ली है। कोयला लाने ले जाने वाली माल गाडियों की आवाजाही पर अधिकारियों की अतिरिक्त ड्यूटी लगाई गई है। इसके अलावा सभी रेलवे मंडलो की संयुक्त टीम कर मॉनिटरिंग करने में जुटी हुई है। कोल रेक की लोडिंग अनलोडिंग में किये भी रेलवे ने अतिरिक्त अधिकारियों की नियुक्त करने के निर्देश दे दिये है। कोल रेक को सामान्य समय से पहले विधुत तापीय परियोजनाओं में पहुचाने में रेलवे अब माइक्रो मैनेजमेंट में लग गया है। ताकि कोयले की कमी में चलने वाली कोल रेक में देरी ना होने पाये।

कोयला ट्रेनों की निर्बाध चलाने की हो रही है मॉनिटरिंग,

उत्तर मध्य रेलवे, पूर्व मध्य रेलवे, पूर्व रेलवे, दक्षिण पूर्व रेलवे, पूर्व तटीय रेलवे और दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से लोडेड कोल रेक प्राप्त होता है। उत्तर मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे में स्थित यूपी, दिल्ली, पंजाब और हरियाणा के बिजली संयंत्रों को आपूर्ति करता है। टाइम मैनेजमेंट के लिये टूंडला, प्रयागराज, झांसी और आगरा में नियंत्रण कक्षों में अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। यह अधिकारी कोयला रेक के परिवहन की निगरानी कर रहे हैं। महाप्रबंधक रेलवे खुद उत्तर मध्य रेलवे में चल रहे सभी कोयला रेक की रीयल टाइम जानकारी प्राप्त कर रहे हैं।

निरीक्षकों के नियुक्त के हुये आदेश...

महाप्रबंधक प्रमोद कुमार ने उत्तर मध्य रेलवे के बिजली घरों के अनलोडिंग स्थलों पर संबंधित निरीक्षकों को नियुक्त करने के भी निर्देश दिए। ताकि खाली रेकों की अनलोडिंग और तुरंत निकासी के दौरान कोई विलंबन न हो। उन्होंने खाली रेकों की मोबिलिटी पर भी विशेष बल दिया। जिससे जल्द से जल्द अगली लोडिंग के लिए उपलब्ध हो सकें। उन्होंने गतिशीलता पर प्रतिकूल प्रभाव डाल रही परिसंपत्ति विफलताओं को भी कम करने के लिए कदम उठाने को कहा।

बैठक कर कोल मालगाडियों को गति देने को निर्देशित किया गया...

महाप्रबंधक उत्तर मध्य रेलवे प्रमोद कुमार ने बुधवार को प्रमुख विभागाध्यक्षों एवं मंडलों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। आगरा, प्रयागराज और झांसी के डीआरएम वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बैठक में शामिल हुए। राष्ट्र में कोयला संकट को देखते हुए रेलवे कोयला रेकों के तेज परिवहन के लिए निर्देश दिये गए। बैठक के दौरान महाप्रबंधक उत्तर मध्य रेलवे प्रमोद कुमार ने उत्तर मध्य रेलवे परीक्षेत्र में कोयले के परिवहन की स्थिति का विश्लेषण किया। उन्होंने कोयला रेक के सुचारु परिवहन को सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को नियंत्रण कक्ष में लगाने के निर्देश दिये।

खबरें और भी हैं...