• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • TSI Made A Porn Video By Giving Intoxicating Pills In Juice, Then Blackmailed The Girl For Eight Months And Raped Her, Brutally Beaten On Protest

दरोगा की दरिंदगी से तंग आकर युवती गंगा में कूदी:कानपुर में TSI पर ब्लैकमेल कर रेप करने का आरोप, डायल 112 पर फोन कर युवती बोली- फूफा ने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी

कानपुर4 महीने पहले
पीड़िता ने कहा कि वह आरोपी टीएसआई को जेल भिजवाकर मानेगी।- प्रतीकात्मक फोटो

कानपुर में रिश्तों को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां रहने वाली एक युवती ने रविवार की शाम डायल 112 पर फोन कर अपने दरोगा फूफा रेप करने का आरोप लगाया। कहा, 'मैं गंगा में कूदने जा रही हूं...ट्रैफिक पुलिस में तैनात दरोगा ने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी है। मेरा अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करके महीनों रेप किया। अब जबरन मेरा गर्भपात करा दिया और अपने बेटे के साथ मिलकर बेरहमी से पीटा है। मैं कहीं भी मुंह दिखाने लायक नहीं बची हूं...।'

इतना कहने के बाद युवती ने जाजमऊ से गंगा नदी में छलांग लगा दी। हालांकि, मौके पर मौजूद गोताखोरों ने उसे बचा लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस उसे चकेरी थाने लेकर पहुंची। युवती की तहरीर पर देर रात दरोगा के खिलाफ दुष्कर्म समेत अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई है।

कुंभ घुमाने बुलाया, होटल में बनाया अश्लील वीडियो
मिर्जापुर के लालगंज थाना क्षेत्र में रहने वाली 19 साल की युवती ने बताया कि कानपुर ट्रैफिक पुलिस में तैनात दरोगा उसके फूफा हैं। जनवरी 2021 में प्रयागराज में हुए माघ मेले में उनकी ड्यूटी लगी थी। इस दौरान उसे परिवार के साथ प्रयागराज घूमने के लिए बुलाया और होटल में जूस में नशीली गोलियां देकर उसके साथ दुष्कर्म किया और अश्लील वीडियो बना लिया। इसके बाद वीडियो वायरल करने की धमकी देकर 8 महीने से उसके साथ लगातार रेप कर रहा है।

इस बीच वह गर्भवती हुई तो उसे दवाइयां देकर गर्भपात भी करा दिया। इतना ही नहीं 10 सितंबर दिन शुक्रवार को पीड़िता को कानपुर बुलाया और चकेरी मोड़ स्थित अपने आवास पर ले गया। यहां पर दरोगा और उसके बेटे ने बेरहमी से पिटाई की।

थाना प्रभारी मधुर मिश्रा ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर दरोगा के खिलाफ रेप और मारपीट समेत अन्य गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई है। उसके बेटे को भी एफआईआर में मारपीट का आरोपी बनाया गया है।

दरोगा के रसूख से कहीं नहीं हुई सुनवाई

पीड़िता ने बताया कि इससे पहले भी उसने दरोगा के खिलाफ पुलिस में शिकायत की थी, लेकिन उसके रसूख के चलते कहीं भी सुनवाई नहीं हुई थी। दरोगा की प्रताड़ना से वह तंग आ चुकी थी। इसी के चलते उसने आत्महत्या करने से पहले डायल-112 पर आपबीती बताने के बाद गंगा में छलांग लगाई। ताकि दरोगा के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो सके।

गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही पुलिस
थाना प्रभारी ने बताया कि पीड़िता का एफआईआर दर्ज करने के साथ ही उसका बयान भी लिया गया है। इसके बाद उसे डफरिन मेडिकल के लिए भेजा गया है। उधर, एक टीम को आरोपी दरोगा की गिरफ्तारी के लिए लगाया गया है। वह दरोगा के घर और नजदीकियों के यहां दबिश दे रही है। थाना प्रभारी ने कहा कि मेडिकल के बाद पीड़िता का मजिस्ट्रेटी बयान कराया जाएगा। इसके बाद आरोपी को जेल भेजने की कार्रवाई की जाएगी।

पीड़िता पर समझौते का दबाव बना रही पुलिस
रेप पीड़िता के गंगा में कूदने पर भले ही मजबूरी में चकेरी पुलिस ने आरोपी दरोगा के खिलाफ रेप समेत अन्य गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज कर ली है। लेकिन, उसे बचाने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। आरोपी के नजदीकियों ने थाने में उसे मुकदमा वापस लेने और मजिस्ट्रेटी बयान में मुकर जाने का दबाव बनाना शुरू कर दिया है। पीड़िता ने कहा कि वह आरोपी टीएसआई को जेल भिजवाकर मानेगी।

खबरें और भी हैं...