अब CSJMU के छात्र कोरोना को देंगे मात:यूनिवर्सिटी ने शुरू किया नया  वैकल्पिक कोर्स, नई शिक्षा नीति के तहत तैयार हुआ है कोर्स

कानपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय - Dainik Bhaskar
छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय

कोरोना वायरस से सुरक्षित और बचने के लिए सीएसजेएमयू के छात्र-छात्राओं को घर को साफ व बैक्टीरिया मुक्त बनाना सिखाया जाएगा। विवि ने एक ऐसा वैकल्पिक कोर्स शुरू किया है जो छात्र को इसी के जरिए दिया गया है। इसके विज्ञान संकाय के ग्रेजुएशन के छात्र-छात्राएं कर सकेंगे। विवि से संबद्ध पीपीएन कॉलेज और क्राइस्टचर्च कॉलेज ने इसे शुरू भी कर दिया है। इस कोर्स को क्राइस्टचर्च कॉलेज की डॉ मीत कमल द्विवेदी व पीपीएन कॉलेज की डॉ निधि श्रीवास्तव व डॉ सुधा अग्रवाल ने तैयार किया है।

नई शिक्षा नीति के तहत तैयार किया गया है कोर्स...
सीएसजेएमयू ने जो या नया कोर्स तैयार किया है उसे नई शिक्षा नीति के तहत संबद्ध महाविद्यालयों के लिए 26 वोकेशनल कोर्सों में प्रस्तावित किया गया है। इसमें से एक कोर्स है प्रिपरेशन ऑफ हाउसहोल्ड क्लीनिंग एजेंट्स एंड डिसइंफेक्टेंट भी है। इन कोर्स के बारे में बात करते हुए डॉ मीत कमल ने बताया कि, कोरोना संक्रमण समेत अन्य बैक्टीरियल इंफेक्शन को देखते हुए यह कोर्स वर्तमान समय की आवश्यकता है। इसकी मदद से छात्र अपने परिवार, रिश्तेदार व पड़ोसियों को सुरक्षित रखने में मदद कर सकेंगे। साथ ही जरूरत पड़ने लघु उद्योग भी शुरू कर सकेंगे।

अल्कोहलिक और नॉन-अल्कोहलिक सैनिटाइजर बनाने की प्रक्रिया समझाएंगे...
डॉ मीत कमल ने बताया कि इस विषय में छात्र-छात्राओं को अल्कोहलिक और नॉन-अल्कोहलिक सैनिटाइजर बनाना सिखाया जाएगा। इसके बाद फिनाइल कैसे बनाते हैं, इसके बारे में बताया जायेगा। अगले सेमेस्टर में छात्र-छात्राओं को साबुन व डिटर्जेंट बनाना सिखाने के साथ रूम फ्रेशनर व लाइजॉल जैसे केमिकल का निर्माण करना भी सिखाया जाएगा। छात्रों को हाउसहोल्ड केमिकल के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। जिसमें नींब, बेकिंग पाउडर, वेनेगर, वाशिंग सोडा जैसे केमिकल जो हर घर में मौजूद रहते हैं, उसका कैसे प्रयोग किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में यह कोर्स छात्रों की पहली पसंद बना है।

खबरें और भी हैं...