• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Vicious Thug Mohd, Resident Of Mewat Haryana. Irfan Arrested, Nude Videos Of 78 Men In Mobile And Evidence Of Chatting With 42 People As Girls

फेसबुक पर ब्लैकमेल करने वाले गैंग का गुर्गा गिरफ्तार:हरियाणा के 5 शतिर चला रहे थे लड़की बनकर ब्लैकमेलिंग का पूरा रैकेट, कानपुर पुलिस ने रुपए देने के बहाने बुलाकर किया अरेस्ट

कानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पकड़े गए बदमाश की पहचान हरियाणा के मेवात के रहने वाले मोहम्मद इरफान (32) के रूप में हुई है। - Dainik Bhaskar
पकड़े गए बदमाश की पहचान हरियाणा के मेवात के रहने वाले मोहम्मद इरफान (32) के रूप में हुई है।

कानपुर में क्राइम ब्रांच और नौबस्ता पुलिस ने सोमवार शाम को करीब 6 बजे फेसबुक पर दोस्ती कर युवकों को ब्लैकमेल करने वाले गैंग के एक गुर्गे को यशोदा नगर बाईपास से दबोच लिया। पकड़े गए बदमाश की पहचान हरियाणा के मेवात के रहने वाले मोहम्मद इरफान (32) के रूप में हुई है। वह ब्लैकमेलिंग की रकम लेने कानपुर आया था। तभी क्राइम ब्रांच और नौबस्ता पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

फेसबुक पर युवती से की थी दोस्ती

थाना प्रभारी सतीश कुमार सिंह ने बताया कि नौबस्ता के हंसपुरम निवासी एक शख्स ने शिकायत दर्ज कर आरोप लगाया था कि फेसबुक पर प्रिया कुमारी नाम की महिला से उसकी दोस्ती हुई थी।

मैसेंजर से बातचीत शुरू हुई और फिर व्हाट्सएप नंबर आदान-प्रदान हुआ था। नंबर देते ही उस पर वीडियो कॉल आई तो दूसरी तरफ एक युवती अश्लीलता कर रही थी। युवती ने उसे भी कपड़े उतारने को कहा और उसका वीडियो रिकॉर्ड कर लिया।

78 पुरुषों के नग्न वीडियो मिले

पीड़ित के मुताबिक वीडियो रिकॉर्ड करने के बाद युवती उसे ब्लैकमेल करके पैसे मांगने लगी। उसने बदनामी के डर से उसके खाते में 500 रुपए ट्रांसफर कर दिए। लेकिन इसके बाद भी उसने ब्लैकमेल करना बंद नहीं किया। ब्लैकमेलिंग से तंग आपकर उसने नौबस्ता थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

मामले की जांच कर रही नौबस्ता पुलिस ब्लैकमेलिंग करने वाले गिरोह तक पहुंच गई और मेवात हरियाणा के रहने के वाले शातिर मोहम्मद इरफान को गिरफ्तार कर लिया। उसके मोबाइल से 78 से ज्यादा पुरुषों के नग्न वीडियो और 1000 से ज्यादा तस्वीरों के साथ ही 42 लोगों से चैटिंग के साक्ष्य मिले हैं।

ब्लैकमेलिंग का पैसा देने का झांसा देकर बुलाया, पुलिस ने किया अरेस्ट

नौबस्ता थाना प्रभारी सतीश सिंह ने बताया कि सोमवार को मेवात हरियाणा का रहने वाला और रैकेट चलाने वाले एक सदस्य को पुलिस ने यशोदा नगर बाईपास के पास से गिरफ्तार कर लिया है। वह सोमवार को ब्लैकमेलिंग का पैसा लेने के लिए कानपुर आया था।

पूछताछ में पकड़े गए युवक ने अपना नाम मेवात हरियाणा निवासी मोहम्मद इरफान बताया है। गिरोह के अन्य साथियों का भी उसने नाम-पता बताया है। पुलिस जल्द ही गिरोह के अन्य ठगों को भी गिरफ्तार करके जेल भेजेगी।

ठगों ने केरल के कोच्चि में खुलवा रखा है फर्जी बैंक अकाउंट

नौबस्ता थाना प्रभारी बताया कि जांच में सामने आया है शातिर ठगों ने केरल के कोच्चि में फर्जी नाम पते पर अकाउंट खुलवा रखा है। इसके साथ ही फर्जी आईडी पर एक्टिवेट सिम का भी इस्तेमाल करते हैं। एक-दो नहीं ब्लैकमेलिंग से गिरोह ने हजारों लोगों को ठगा है। पैसा ट्रांसफर कराने के लिए उसने केरल के रहने वाले किसी फर्जी व्यक्ति के नाम पर बैंक अकाउंट खुलवा रखा है। गैंग के बाकी सदस्यों की तलाश में क्राइम ब्रांच और नौबस्ता थाना पुलिस दबिश दे रही है।

हाई प्रोफाइल लड़कियों की फोटो लगाकर लोगों से ठगी

जांच में सामने आया कि उसने अलग-अलग नाम से एक-दो नहीं सैकड़ों अकाउंट बना रखे थे। उसने लोगों को आकर्षित करने के लिए छात्रा, महिला प्रोफेशनल्स और नौकरीपेशा महिलाओं व लड़कियों के नाम से अकाउंट बना रखे थे। फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते ही तस्वीरें देखकर लोग झांसे में आ जाते और फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट करके फंस जाते और फिर ठगी का खेल शुरू हो जाता था।

रैकेट को मेवात हरियाणा के रहने वाले 5 युवक चला रहे थे। अगर कोई झांसे में आ जाता तो उसको पहले यूट्यूब अधिकारी बनकर और फिर क्राइम ब्रांच का अधिकारी बनकर डराकर वसूली करते थे।

खबरें और भी हैं...