CSA में पूर्व छात्र लेंगे क्लास, बनेगा एलुमनी हॉस्टल:पूर्व डीन के नाम पर शुरू करेंगे फेलोशिप

कानपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
CSA में अब पूर्व छात्र लेंगे यहां पढ़ने वाले छात्रों की क्लास। - Dainik Bhaskar
CSA में अब पूर्व छात्र लेंगे यहां पढ़ने वाले छात्रों की क्लास।

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में पढ़ कर देश और दुनिया के अलग अलग कोनों में काम करे रहे पूर्व छात्र अब विश्वविद्यालय आकर छात्रों को पढ़ाएंगे। इस क्लासेज में यह पूर्व छात्र यहां पढ़ रहे छात्रों को अपने पुराने अनुभव के बारे में बताएंगे। बीते दिनों सीएसए में हुई एलुमनी मीट में यह फैसला लिया गया है। एलुमनी द्वारा दी जाने वाली क्लासेज निशुल्क होंगी। एलुमनी एसोसिएशन के महासचिव डॉ मुनीष कुमार ने बताया कि क्लास में आ कर छात्रों को पढ़ाने वालों में कृषि उद्यमी, कृषि कंपनी में अधिकारी और वैज्ञानिक शामिल होंगे। यह सभी सीएसए के पूर्व छात्र है।

बजट कम होने की वजह से गेस्ट हाउस में रुकना पड़ता था
डॉ मुनीष कुमार ने बताया कि, अभी कैंपस में एलुमनी के पास रुकने का कोई जरिया नहीं है। अधिकारियों से बोलने के बाद उनको किसी गेस्ट हाउस में रोका जाता है। अब जब एलुमनी जब क्लास लेंगे तो उनका आना जाना भी बढ़ेगा, ऐसे में उनके रुकने के लिए कैंपस में ही एलुमनी हॉस्टल भी बनेगा। शुरुआत में दो सुइट रूम से हॉस्टल की शुरुआत की जाएगी। बाद में फंड मिलने पर कमरों और सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी। हॉस्टल बनाने के लिए कैंपस में जगह तलाशी जा रही है। फिलहाल इंटरनेशनल हॉस्टल के परिसर को चिन्हित किया गया है।

विश्वविद्यालय के पूर्व डीन के नाम पर शुरू होगी फेलोशिप
सीएसए में पूर्व डीन कृषि स्व डॉ एनएस कुशवाहा के नाम पर फेलोशिप शुरू की जाएगी। इसके तहत एनिमल हसबेंडरी विभाग के किसी एक जरूरतमंद छात्र को दो हजार रुपया महीना मिलेगा। फेलोशिप के लिए नियम विवि की एकेडमिक काउंसिल द्वारा बनाए जाएंगे। इसमें आने वाले खर्च को पूर्व छात्र और आरएसएम पीजी कॉलेज धामपुर के पूर्व डीन डॉ राजेश चौहान वहन करेंगे।

खबरें और भी हैं...