• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Worship Program To Install Lift Without Giving Tender To Any Company, Atmosphere Of Uncertainty About Tender, Impossible To Install Lift In 40 Days. Kanpur

दिखावे को ग्रीन पार्क में लिफ्ट का हुआ भूमि पूजन:किसी कंपनी को टेंडर दिए बिना ही कर डाला लिफ्ट लगाने का पूजा कार्यक्रम, टेंडर को लेकर अनिश्चितता का माहौल, 40 दिनों में लिफ्ट लगना नामुमकिन

कानपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बैठक में कमिश्नर राज शेखर - Dainik Bhaskar
बैठक में कमिश्नर राज शेखर

लम्बे समय से बहु-प्रतीक्षित मीडिया गैलरी में लिफ्ट लगने के लिए भूमि पूजन तो हो गया लेकिन अभी तक उस कम्पनी को टेन्डर तक नही दिया जा सका है जो उसे पूर्ण रूप से स्थापित करेगी। 40 दिनों के इतने कम समय में लिफ्ट लगाना मुमकिन नहीं है। शहर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में 25 नवंबर को होने वाले भारत और नूज़ीलैण्ड के बीच टेस्ट मैच की तैयारियां जोर पकड़ती दिख रही है। टेस्ट मैच से पहले मीडिया सेंटर गैलरी में लिफ्ट लगाने की कवायद की जा रही है। इसी क्रम में बुधवार को ग्रीन पार्क गैलरी में लिफ्ट लगाने के लिए भूमि पूजन किया गया।

भूमि पूजन तो हो गया, लेकिन लिफ्ट लगने आसार कम...
भूमि पूजन तो हो गया लेकिन अभी तक लिफ्ट लगाने के लिए निर्माण एजेंसी फाइनल नहीं हो पाई है। आज कमिश्नर राज शेखर ने ग्रीन पार्क का दौरा कर तैयारियों का जायजा लिया। दरअसल मीडिया गैलरी में दो लिफ्ट लगनी है, खेल विभाग का कहना है कि शुरुआत में छोटी लिफ्ट लगाई जा सकती है और मैच के बाद दूसरी लिफ्ट लगवा दी जाएगी। लेकिन कमिश्नर ने आपत्ति जताते हुए कहा, कानपुर को कई लोग ग्रीन पार्क क्रिकेट स्टेडियम के नाम से ही जानते है, ऐसे में जल्दबाजी में लिफ्ट लगवाकर ग्रीन पार्क की शान पर कोई आंच न आये इससे बेहतर है दोनों लिफ्ट का कार्य मैच के बाद हो तो बेहतर होगा। साथ ही निर्माण एजेंसी वाले भी यह कह रहे है कि मैच को अब सिर्फ 40 दिन बचे है, ऐसे में लिफ्ट लगाने का कार्य मुमकिन नहीं दिखायी दे रहा है।

भूमि पूजन करती मुद्रिका पाठक
भूमि पूजन करती मुद्रिका पाठक

ऐतिहासिक 500 टेस्ट मैच के दौरान लिटिल मास्टर ने की थी लिफ़्ट न होने की शिकायत...
आपको बता दें इससे पहले 22 सितंबर 2017 को ग्रीन पार्क ऐतिहासिक 500 वां टेस्ट मैच खेला गया था। उस दौरान लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर ने मीडिया सेंटर में लिफ्ट न होने की शिकायत की थी। उन्होंने कहा था कि कमेंट्री बॉक्स चौथे फ्लोर में होने के चलते आवाजाही में काफी परेशानी होती है। जिसका संज्ञान जिला प्रशासन की ओर से लिया गया है। कमिश्नर राजशेखर ने बुधवार को ग्रीन पार्क का निरीक्षण भी किया व तैयारियां तेज करने के निर्देश दिए।

विज़िटर गैलरी के लिए यूपीसीए और बीसीसीआई से की मांग...
स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत डायरेक्टर पवेलियन में विजिटर गैलरी बनाने की भी स्वीकृति दी गई है। पांच करोड़ की लागत से प्रोजेक्ट पूरा किया जाएगा। इसमें राजशेखर ने कहा कि अगर यूपीसीए या बीसीसीआई या फिर कोई पूर्व खिलाड़ी अपनी तरफ से किसी भी प्रकार का योगदान जैसे कोई अपना बल्ला, बॉल, या फिर ग्रीन पार्क से जुड़ी किसी भी प्रकार की चीज देना चाहे तो वह सीधे यूपीसीए से संपर्क कर सकता है।

खबरें और भी हैं...