पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • You Will Not Be Able To Sit Anywhere On The Roads By Stopping The Bus, 63 Bus Boxes Will Be Made, Passengers Will Also Be Able To Comfortably Weigh The Bus

कानपुर में ट्रैफिक को सुधारने के लिए बड़ा कदम:सड़कों पर कहीं भी बस रोककर नहीं बैठा सकेंगे सवारी, 63 बस बॉक्स बनाए जाएंगे, पैसेंजर्स को भी धूप-बारिश से होगी बचत

कानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सवारी भरने के लिए बस ड्राइवर चौराहों के बीच में बस रोककर भी सवारी भरने लगते हैं। इससे रोजाना  जाम और एक्सीडेंट होते हैं। - Dainik Bhaskar
सवारी भरने के लिए बस ड्राइवर चौराहों के बीच में बस रोककर भी सवारी भरने लगते हैं। इससे रोजाना जाम और एक्सीडेंट होते हैं।

कानपुर में ट्रैफिक व्यवस्था को सुधारने की दिशा में तेजी से कार्य किया जा रहा है। अब बस ड्राइवर कहीं भी बस रोककर सवारी नहीं भर सकेंगे। इसको लेकर यातायात निदेशालय से भी निर्देश जारी किए गए हैं। शहर में 63 लोकेशन पर बस बॉक्स बनाए जाएंगे। जहां तय समय पर आकर सिटी बसें रुकेंगी और पैसेंजर बस में सवार हो सकेंगे। इसको लेकर डीसीपी ट्रैफिक ने नगर निगम से बस बॉक्स निर्माण कराने के लिए कहा है।

जाम और एक्सीडेंट रुकेंगे
कानपुर में 350 से ज्यादा प्राइवेट और गवर्नमेंट सिटी बसें दौड़ती हैं। सवारी भरने के लिए बस ड्राइवर चौराहों के बीच में बस रोककर भी सवारी भरने लगते हैं। इससे रोजाना ही जाम लगता है। इसके अलावा बीच रोड में भी लोग हाथ देकर बस रोकते हैं और अचानक ही बस रुकने से पीछे से आ रहे व्यक्ति हादसे में घायल हो जाते हैं। एक्सीडेंट रोकने के लिए अब बस बॉक्स के सामने ही तय स्थान पर ड्राइवर बस रोक सकेंगे। विजय नगर चौराहा, गोविंद नगर चौराहा, रामादेवी, टाटमिल, घंटाघर, बड़ा चौराहा, फूलबाग, किदवई नगर, नौबस्ता, जरीबचौकी क्रॉसिंग में रोजाना बस ड्राइवर बसें रोककर सवारी भरते और उतारते हैं।

लोगों को किया जाएगा जागरुक
डीसीपी ट्रैफिक बीबीजीटीएस मूर्ति ने लेटर लिखकर नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी को बस बॉक्स तैयार करने के लिए कहा है। बता दें कि नगर निगम ने पहले भी कई स्थानों पर बस स्टॉपेज तैयार कराए थे। लेकिन वक्त के साथ सब बेकार हो गए। अब उन्हीं लोकेशन पर दोबारा बस बॉक्स बनाने की कवायद शुरू हुई है। वहीं स्कूलों, बस ड्राइवर और लोगों को भी ट्रैफिक सेल द्वारा जागरूक किया जाएगा। इसके लिए अभियान भी चलाया जाएगा।

पैसेंजर को ये सुविधाएं मिलेंगी
सिटी बसों में रोजाना सफर करने वालों को धूप में सड़क किनारे खड़े होकर इंतजार नहीं करना पड़ेगा। तय समय पर बस आएगी। बस बॉक्स में पैसेंजर के बैठने की सुविधा के साथ ही पीने के पानी की भी व्यवस्था कुछ मॉडल बस बॉक्स में की जाएगी। उन्हें मोबाइल चार्जिंग पोर्ट भी मिल सकते हैं।

यहां बन सकते हैं बस बॉक्स
नौ नंबर क्रॉसिंग, जरीबचौकी, घंटाघर, किदवई नगर, फजलगंज, गोल चौराहा, नौबस्ता, पनकी, सचान चौराहा, दीप टॉकीज तिराहा समेत अन्य।