योगी सरकार का UP में जीका को लेकर अलर्ट:कानपुर में 11 हुई संक्रमितों की संख्या, चकेरी क्षेत्र का 6 किमी का दायरा कंटेनमेंट जोन

कानपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कानपुर के पोखरपुर में फॉगिंग करते नगर निगम के कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
कानपुर के पोखरपुर में फॉगिंग करते नगर निगम के कर्मचारी।
  • स्वास्थ्य विभाग की 75 टीम लगी, 1100 घरों में 454 लोगों के लिए सैंपल
  • 4 एयरफोर्स कर्मी, 6 सिविलियन व एक गर्भवती महिला वायरस की चपेट में

कानपुर में अब जीका संक्रमितों की संख्या 11 पहुंच गई है। चकेरी क्षेत्र के 6 किमी दायरे को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने चकेरी इलाके के ढाई हजार घरों का सर्वे किया। जीका संदिग्ध बुखार रोगियों की सैंपलिंग की। इनमें 4 एयरफोर्स कर्मी, 6 सिविलियन व एक गर्भवती महिला शामिल हैं। यूपी में अब तक कानपुर में जीका वायरस के केस मिले हैं। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने पूरे प्रदेश में अलर्ट घोषित किया है।

बीते मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग ने जांच अभियान में 1100 घरों में 454 लोगों के सैंपल लिए हैं। जिसमें 75 टीम लगी हैं। इसके अलावा शहर की पुलिस और स्वास्थ्य विभाग उन मरीजों को अभी तक तलाश नहीं कर पाया है जिनकी रिपोर्ट तो पॉजिटिव आई थी। लेकिन, उनके घर का पता नहीं लग पा रहा था। इन दोनों मरीजों के फोन सर्विलांस पर लगे है उसके बावजूद इनका पता नहीं लग।

इन 11 मोहल्लों में फैला जीका का संक्रमण

सीएमओ डॉ नेपाल सिंह ने बताया कि चकेरी के दस मोहल्लों में फैल चुका संक्रमण टीमों द्वारा गर्भवती महिलाओं और बुखार रोगियों की सूची तैयार की जा रही
सीएमओ डॉ नेपाल सिंह ने बताया कि चकेरी के दस मोहल्लों में फैल चुका संक्रमण टीमों द्वारा गर्भवती महिलाओं और बुखार रोगियों की सूची तैयार की जा रही

सीएमओ डॉ नेपाल सिंह ने बताया कि चकेरी के दस मोहल्लों में फैल चुका संक्रमण टीमों द्वारा गर्भवती महिलाओं और बुखार रोगियों की सूची तैयार की जा रही है। सोमवार को शिवकटरा की 45 साल की महिला को जीका की पुष्टि हुई है। इस तरह जीका का संक्रमण अब चकेरी के 11 मोहल्लों में फैल चुका है। इसके पहले पोखरपुर, आदर्शनगर, श्यानगर, कालीबाड़ी, ओमपुरवा, काकोरी, लालकुर्ती, पूनम टाकीज और काजीखेड़ा में संक्रमित मिले हैं।

डेंगू के 5 और मरीज मिले
मंगलवार को डेंगू के पांच नए मरीज मिले है। इसके साथ ही सरकारी आकड़ों के हिसाब से डेंगू एक्टिव केस की संख्या 52 हो गई है। नए रोगी हर्षनगर, पतारा, रहमतपुर और बिल्हौर में मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने 10 स्थानों पर स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन किया। इन कैंपों में आए 115 बुखार के रोगियों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। अब तक नगर में डेंगू संक्रमितों की कुल संख्या 510 है। 390 संक्रमित ग्रामीण और 129 नगरीय क्षेत्रों में मिले हैं।

यूपी के सभी जिलों के CMO को किया गया अलर्ट
कानपुर में जीका वायरस संक्रमित केस मिलने पर स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया है। शासन से सभी जिलों के सीएमओ को पत्र भेजकर ज्यादा से ज्यादा टेस्ट करने को कहा गया है।पत्र में कहा है कि जिला स्वास्थ्य समिति संचारी रोग नियंत्रण के लिए जिम्मेदार होगी। जीका की पहचान के लिए डेंगू का टेस्ट व्यापक किया जाए।

डेंगू जैसे होते हैं जीका के भी लक्षण
जीका भी डेंगू व मलेरिया की तरह मच्छर से होने वाला संक्रमण होता है। यह मस्तिष्क पर असर डालता है। फिजीशियन डा. मनोज खत्री का कहना है कि इसके लक्षण काफी कुछ डेंगू जैसे होते हैं। इसमें बुखार, दाने, सिरदर्द, जोड़ों में दर्द, आंखें लाल होना मांसपेशियों में दर्द खास तौर पर देखे जाते हैं। बहुत से संक्रमित लोगों में लक्षण नहीं दिखते।