कासगंज में बाल श्रम करते पाये गये 7 बच्चे:AHTU की टीम ने कराया मुक्त, होटल, ढाबा, दुकानों की हुई चेकिंग

कासगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कासगंज में एंटी हयूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने बुधवार को बाल श्रम में लगे बच्चों को मुक्त कराने का अभियान चलाया। अभियान के दौरान एएचटीयू की टीम ने बाल श्रम में लगे 7 नाबालिग बच्चों को मुक्त कराया। एंटी हयूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने बाल श्रम कराने वाले दुकानदारों को भविष्य में नाबालिग से श्रम कराने पर कार्रवाई की चेतावनी दी।

कासगंज में बाल मजदूरी कराये जाने की लगातार एसपी को शिकायत मिल रही थी। एसपी रोहन प्रमोद बोत्रे ने शिकायतों के आधार पर एएचटीयू टीम को बाल श्रम में लगे बच्चों को मुक्त कराये जाने के निर्देश दिए। एएचटीयू की टीम ने एसपी के निर्देश पर जनपद के सभी होटल, ढाबों, दुकानों, बाल श्रम और भिक्षावृति में लगे बच्चों को लेकर अभियान चलाया।

कासगंज में एंटी हयूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने चलाया अभियान।
कासगंज में एंटी हयूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने चलाया अभियान।

नाबालिग से श्रम कराने पर कार्रवाई की चेतावनी
अभियान के दौरान टीम ने कस्बा सोरों में होटल, ढाबा, दुकान और स्थानों में चेकिंग की। जहां 7 बच्चे बाल श्रम करते मिले। जिन्हें मुक्त कराया गया। मुक्त कराये गए सभी बच्चों को चाइल्ड लाइन कार्यालय भेजा गया। इसके साथ ही बाल मजदूरी कराने वाले सभी दुकानदारों को भविष्य में बाल श्रम न कराये जाने की चेतावनी दी।

खबरें और भी हैं...