कासगंज में बिल्डिंग निर्माण की कार्यशाला:इंजीनियर बोले- मकान निर्माण में मिस्री एवं सीमेंट की भूमिका होती है अहम

कासगंजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कासगंज में बिल्डिंग निर्माण की कार्यशाला का आयोजन। - Dainik Bhaskar
कासगंज में बिल्डिंग निर्माण की कार्यशाला का आयोजन।

कासगंज के अमांपुर में एटा-सहावर रोड पर राकेश पाराशर सीमेंट एजेंसी पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। जेके सुपर सीमेंट बिल्ड सेफ निर्माण के शूरवीर ने इस कार्यशाला का आयोजन किया। कार्यशाला में राज मिस्त्री, ठेकेदारों और व्यापारियों को गुणवत्तापूर्ण भवन निर्माण का आधुनिक तरीका बताया गया। साथ ही सीमेंट से जुड़ी अनेक महत्वपूर्ण जानकारियां दी गई।

इंजीनियर शबाब ने बताया कि इस महंगाई के दौर में रोटी व कपड़ा के बाद मकान की सबसे बड़ी आवश्यकता है, समय के साथ सीमेंट की गुणवत्ता में भी बदलाव किया गया है, जिसमें जल्दी सेट होने वाले सीमेंट को सभी राजमिस्त्री पसंद कर रहे हैं,

कासगंज में निर्माण से जुड़ी कार्यशाला।
कासगंज में निर्माण से जुड़ी कार्यशाला।

तैयार मसाला का एक घंटे में करें उपयोग
कंपनी के इंजीनियर शबाब ने बताया कि सीमेंट और बालू का मिलान उतना ही किया जाए। जितना एक घंटे में दीवार में लग जाए। अधिक मात्रा में मिलान कर लेने से उसकी ताकत में कमी आ जाती है। इसके अलावा साफ पानी, मिट्टी रहित बालू का ही प्रयाग करना चाहिए। समय के साथ कंपनी ने सीमेंट की गुणवत्ता का ध्यान दिया है।

अच्छी गुणवत्ता के सीमेंट का करें उपयोग
इस कार्यशाला मे कंपनी के एरिया ऑफिसर नितिन गोयल ने कहा कि घर बनाने के लिए आवश्यक है कि हमें सही व्लानिंग, रेत-बालू, रोडी-गिट्टी, ईट, पानी, सरिये और मसाले का सही अनुपात में उपयोग करना चाहिए। जेके सीमेंट डीलर राकेश पाराशर ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि किसी भी मकान के निर्माण में मिस्री एवं सीमेंट की भूमिका अहम होती है। इसलिए सभी को चाहिए कि वह अच्छी कंपनी की ब्रांड सीमेंट ही उपयोग में लाएं।

खबरें और भी हैं...