कासगंज में आंगनबाड़ी केंद्रों पर मनाया गया वजन दिवस कार्यक्रम:शून्य से पांच साल तक के बच्चों का किया गया वजन, 2 बच्चे पाए गए कुपोषित

कासगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कासगंज में आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों का किया गया तौल। - Dainik Bhaskar
कासगंज में आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों का किया गया तौल।

कासगंज में सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर मंगलवार को शून्य से पांच साल के बच्चों का वजन दिवस कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसमें आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने केंद्रों पर आए शून्य से पांच साल तक के बच्चो का वजन किया ओर उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराया। बच्चों का चिन्हित किया गया। जिससे यह पता चल सके कोई बच्चा कुपोषण का शिकार तो नहीं है। हालांकि 2 बच्चे कुपोषित पाए गए हैं।

कोविड-19 प्रोटोकॉल का रखा गया पूरा ध्यान

जिले में हुए कार्यक्रम के दौरान जिला कार्यक्रम अधिकारी सुमित चौहान ने बताया कि जनपद के सभी केंद्रों पर बच्चों का वजन नापकर स्वस्थ, कुपोषित और अतिकुपोषित श्रेणी में विभाजन की प्रक्रिया की गई। आयोजन के दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखा गया है। वहीं जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि वजन दिवस पर बच्चों के वजन और आयु के आधार पर उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराकर उनका चिह्नीकरण किया गया है।

47 बच्चों में से 2 बच्चे मिले कुपोषित

जिले ब्लॉक के गांव तैयवपुर कमालपुर में वजन दिवस के तहत 47 बच्चों का वजन किया गया। इनमें दो 2 कुपोषित बच्चे पाए गए थे। जिनके परिवार वालों को आंगनबाड़ी कार्यकर्ता प्रेमलता ने बच्चों के पोषण बढ़ाने के बारे में समझाया ओर हरी सब्जियां, फल, दूध, आदि बच्चे को दें। इसके बारे में जानकारी दी गई जिससे बच्चा सुपोषित बन सके।

28 दिसंबर को मनाया जाएगा अन्नप्राशन दिवस

बाल विकास परियोजना अधिकारी (सीडीपीओ) हेमलता ने बताया की मंगलवार को सभी केंद्रों पर वजन दिवस मनाया गया। 14 दिसंबर को गोद भराई व 28 दिसंबर को अन्नप्राशन दिवस में छह माह की आयु पूर्ण कर चुके बच्चों का अन्नप्राशन होगा।