कासगंज में एक परिवार के 5 लोग नदी में डूबे:मां और बड़े बेटे को लोगों ने बचाया, पिता और छोटे बेटे की मौत, भतीजा अभी भी लापता

कासगंज5 दिन पहले
गोताखोरों ने बड़ी मशक्कत से मां और बेटे को बचा लिया है जबकि पिता की मौत हो गई और दो लोग अभी लापता हैं।

कासगंज में गुरुवार को काली नदी में एक परिवार के 5 लोग डूब गए। मां शबाना और बड़े बेटे चांद को लोगों ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया। जबकि पिता और छोटे बेटे फैजान का शव मिल गया है। भतीजा अभी भी लापता है। परिवार यहां गुरूवार सुबह पीर बाबा की मजार पर चादर पोशी करने आया था। मजार और नदी में ज्यादा दूरी नहीं है।

शौच करने गया था बेटा, तभी वह नदी में गिर गया
सुबह जब परिवार चादर पोशी के लिए पहुंचा तो परिवार के सबसे छोटे बेटे को शौच लग गई। इसके बाद वह परिवार की देख रेख में नदी किनारे शौच के लिए चला गया। अचानक उसका पैर फिसला और वह सीधे नदी में चला गया। उसे डूबते देख उसके पिता ने नदी में छलांग लगा दी। जब बहुत देर तक पिता युनुस बाहर नहीं आए तो, यूनुस के बड़े बेटे और भतीजे ने भी नदी में छलांग दी। थोड़ी देर बाद मां शबाना भी नदी में कूद गई।

बच्चे को डूबता देख उसके पिता ने पहले नदी में छलांग लगाई फिर मां ने भी छलांग लगा दी।
बच्चे को डूबता देख उसके पिता ने पहले नदी में छलांग लगाई फिर मां ने भी छलांग लगा दी।

पिता और छोटे बेटे का शव हुआ बरामद
स्थानीय लोगों ने जब 5 लोगों को नदी में डूबता देखा तो, पुलिस को सूचना दी। सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। फिलहाल, गोताखोरों ने बड़ी मशक्कत से मां शबाना और बड़े बेटे को बचा लिया है। स्थानीय गोताखोर और पीएसी की मदद से लापता लोगों की तलाश की जा रही है। गोताखोरों ने यूनुस और छोटे बेटे फैजान के शव को नदी से बरामद कर लिया है। भतीजा अभी भी लापता है।

खबरें और भी हैं...