कौशांबी में हाईटेंशन तार की चपेट में आया युवक:सरिया का जाल बांधते समय हुआ हादसा, बेटे ने जान पर खेलकर जिंदा बचाया

कौशांबी7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हाईटेंशन तार की चपेट में आकर मजदूर घायल हो गया, सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच की। - Dainik Bhaskar
हाईटेंशन तार की चपेट में आकर मजदूर घायल हो गया, सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच की।

कौशांबी मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के भक्तन का पूरा गांव में निर्माणाधीन भवन में सरिया का जाल बांध रहा युवक हाईटेंशन तार की चपेट में आ गया। हादसे के दौरान युवक को करंट में चिपका देख दूसरे मजदूर मौके से फरार हो गए।

घायल युवक के बेटे ने अपनी जान की परवाह किये बिना पिता को करंट से बचाकर इलाज के लिए लेकर अस्पताल पहुंचा। मरीज की हालत नाजुक होता देख डाक्टरों ने उसे प्रयागराज रेफर कर दिया है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने भी जांच-पड़ताल की।

हाईटेंशन तार की चपेट में आए युवक को बेटा अस्पताल लेकर पहुंचा।
हाईटेंशन तार की चपेट में आए युवक को बेटा अस्पताल लेकर पहुंचा।

पिता से जाल बांधना सीख रहा था बेटा
बहादुरपुर गांव में सुग्गन लाल (45) पुत्र स्व रामराज अपने परिवार के साथ रहता है। परिवार में पत्नी, 3 बेटे और 1 बेटी है। बड़ा बेटा कुलदीप इंटर की पढ़ाई पूरी कर के पिता के साथ निर्माणधीन भवनों में सरिया का जाल बांधने का काम सीख रहा है। रविवार को वह पिता के साथ गांव के समीप भक्तन का पूरा गांव में रामशंकर तिवारी के निर्माणधीन भवन में छत पड़ने से पहले सरिया का जाल बांधने पहुंचा।

शरीर से निकल रहा था धुआं
सटरिंग की तैयारी में एक दर्जन से अधिक मजदूर छत पर काम कर रहे थे। अचानक सरिया का जाल बांधते समय सुग्गन का सिर छत के ऊपर से गुजर रही हाईटेंशन तार (33 हजार वोल्टेज) से टच हो गया। हादसे के चश्मदीद सुग्गन के बेटे कुलदीप ने बताया कि अचानक तेज आवाज हुई और उसके पिता छत पर गिर पड़े। उनके शरीर से धुआं निकलने लगा। साथी मजदूर मौके से फरार हो गए।

डॉक्टरों ने प्रयागराज किया रेफर
उसने हिम्मत दिखाते हुए बिजली के तार के नीचे से पिता को हाथ से खींचकर बाहर निकाला तो उनकी सांस चल रही थी। शोर मचाकर लोगों से मदद मांगी। कुलदीप पिता को अस्पताल लेकर पहुंचा। डॉक्टरों ने सुग्गन का इलाज शुरू किया। सुग्गन के शरीर के हाथ, पैर, पेट और सिर में बर्न इंजरी थी। डाक्टर वैभव केसरवानी ने प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर होने पर प्रयागराज रेफर कर दिया।

खबरें और भी हैं...