कौशांबी में हिन्दू जागरण मंच की बैठक:लव जिहाद व धर्मांतरण के खिलाफ चलाया जाएगा जागरूकता अभियान, संगठन मंत्री ने बनाया एजेंडा

कौशांबी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हिंदू जागरण मंच की बैठक मंगलवार को गिरसा गांव स्थित ब्लाक दफ्तर पर हुई। बैठक में प्रांत संगठन मंत्री शिव नारायण ने बतौर मुख्यातिथि हिस्सा लिया। बैठक के दौरान संगठन के कार्यकर्ताओं ने लव जिहाद व धर्मांतरण जैसे ज्वलंत मुद्दों पर जन जागरूकता अभियान चलाए जाने का प्रस्ताव रखा। प्रस्ताव पर आम सहमति बना कार्ययोजना के तहत काम की बात पर जोड़ दिया गया।

गांव-गांव में चलाएंगे अभियान
मंत्री शिवनारायण ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि हिंदू धर्म में मौजूद कुरीतियों के प्रति लोगों को जागरूक करें। बड़ी संख्या में मौजूदा समय में धर्मांतरण का काम चोरी छिपे प्रलोभन देकर कराया जा रहा है। इसके खिलाफ आवाज उठाए जाने के साथ संगठन अब कार्यकर्ताओं के जरिए गांव-गांव में जाकर हिंदू युवा-युवतियों को जागरूक करेंगे, जिससे सनातन धर्म की रक्षा हो सके।

हिंदू धर्म के लिए भारत एकमात्र देश
संगठन के जिला संयोजक अवधेश नारायण शुक्ला ने कहा कि पूरे विश्व में 57 देश मुस्लिमों के हैं। यही नहीं 18 देश बौद्ध धर्मावलंबियों के हैं और इसके बाद 117 के लगभग देश ईसाई धर्म के बताए जाते हैं, लेकिन सनातन हिंदू धर्म के लिए भारत देश ही उसके लिए एकमात्र अपना रहने का ठिकाना है। ऐसे में विभिन्न धर्म के जो ठेकेदार हैं, वह भारत से हिंदू धर्म को खत्म कराने के लिए एक बड़ी साजिश चला रहे हैं, जो मौजूदा समय में विभिन्न दूसरे धर्मों द्वारा भारत में धर्मांतरण की साजिश की जा रही है।

संगठन के पदाधिकारियों की घोषणा
इस मौके पर संगठन के पदाधिकारियों की घोषणा की गई। जिसमें कृष्ण कांत त्रिपाठी, मोनू यदुवंशी, विमलेश जी, सुश्री अंकुशा लोधी, राज कुमार त्रिपाठी, यदुनंदन जी, कमलेश जी व सुशील गुप्ता को जिला कार्यसमिति में जगह दी गई। बैठक में प्रमुख रूप से विनोद विश्वकर्मा, पिंकू, बलवीर सिंह, किशन साहू, शैलेंद्र शुक्ला, विनोद कुमार सिंह, बृजेश प्रताप सिंह, शिखर मिश्रा, नितेश द्विवेदी, आरके विश्वकर्मा, कौशिक तिवारी, मोहित शर्मा, यदुनंदन सिंह, सूरज बली, महेंद्र मिश्रा, चक्रेश, राकेश, पारसनाथ, राजेंद्र प्रसाद, जयराम, सुशील कुमार गुप्ता, मोनू कुशवाहा, राकेश पांडे, पिंटू, महेंद्र मिश्र, हिमांशु द्विवेदी सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...