कौशांबी…बाबा मियां ने दो सगी बहनों से ठगे 10 लाख:बोला- तुम्हें अरबों रुपए दिलवा दूंगा, पतियों की मौत नहीं होगी, बीमारियां दूर होंगी

कौशांबी5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बहनों ने शिकायती पत्र पुलिस को दिया। - Dainik Bhaskar
बहनों ने शिकायती पत्र पुलिस को दिया।

कौशांबी में जादू टोना के नाम पर एक ढोंगी बाबा के चक्कर मे फंसी दो सगी बहनों ने 10 लाख रुपए गंवा दिए। दोनों ने पश्चिम शरीरा पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

सैनी कोतवाली के रूपनारायनपुर गांव की महिला सुंदर कली और उसकी फतेहपुर जनपद निवासी बहन रेखा देवी ने पश्चिम शरीरा पुलिस से परई गांव निवासी बाबू मियां पर 10 लाख की ठगी करने का गंभीर आरोप लगाया है। सुंदर कली ने बताया कि एक साल पहले ईशाक अपने 2 साथियों संग गांव आया था। लोगों की परेशानियों का हल निकालने की बात कहकर उसने लोगों को विश्वास में लिया।

ब्याज लेकर दिए पैसे

परेशानियों से घिरी महिला बाबा के झांसे में आ गई। बाबा ने उसे परेशानियों से निजात दिलाने और घर में छिपे गुप्त धन दिलाए जाने के नाम पर 10 लाख रुपए ले लिए। बहन रेखा और उसने खेत बेच कर और घर के जेवर बेच कर रुपए दिए। रुपए पूरे नहीं हुए, तो उन्होंने ब्याज पर साहूकार से लिए। जिसका ब्याज वो आज भी भर रही हैं।

दोनों ने दिए रुपए

बाबा मियां ने उन्हें बताया कि वो अपने तंत्र-मंत्र के जरिए उनके घर में हो रही पुरुषों की अकाल मृत्यु पर रोक लगा सकता है। दुख और बीमारी से निजात दिला सकता है। साथ ही घर के इर्द गिर्द छिपे गुप्त अरबों की संपत्ति भी उन्हें हासिल करा देगा। जिसके लालच में आकर पीड़ित सगी बहनों ने 5-5 लाख रुपए बाबा मियां को दिए। 1 साल तक कोई काम पूरा नहीं होने पर महिलाओं का मोह बाबा से भंग हो गया।

फरार होने की फिराक में बाबा

पीड़ित महिलाओं ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि जादू-टोने के बाद लाभ न होने पर उन्होंने मियां से अपने रुपए वापस करने की बात कही। जिस पर मियां ने रुपए देने की बात करते हुए एक साल बिता दिए। पुलिस से शिकायत न करो, वो रुपए लौट देगा। लेकिन अब वो कहीं फरार होने की फिराक में है।

दो थाना पुलिस के बीच अटकी इंसाफ की आस

सुंदर कली और रेखा का आरोप है कि वो मंगलवार को सुबह पश्चिम शरीरा थाने शिकायत करने पहुंची। पुलिस ने उसे सैनी थाने का मामला बता वहां जाने की सलाह दी। जब वो सैनी थाने पहुंची, तो थाना पुलिस ने उसे पश्चिम शरीरा थाने भेजा।

क्या बोले थानेदार

पश्चिम शरीरा कोतवाल रोशन लाल ने बताया कि मामला एक साल पुराना है। घटना स्थल सैनी कोतवाली के क्षेत्र में आता है। लिहाजा केस सैनी पुलिस को दर्ज कर कार्रवाई करनी चाहिए। वहीं सैनी के कोतवाल टीबी सिंह ने बताया कि आरोपी कोतवाली पश्चिम शरीरा थाना क्षेत्र का रहने वाला है। लिहाजा पश्चिम शरीरा पुलिस को कार्रवाई करनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...