भाजपा विधायक के रेपिस्ट नाती का VIDEO आया:9 दिन पहले टैक्सी का इंतजार कर रही महिला को अगवा कर दोस्तों के साथ किया था रेप, कौशांबी जेल में बंद; पीड़िता बोली- मुझे जान का खतरा

कौशांबी2 महीने पहले
भाजपा विधायक के नाती रितिक के मोबाइल में यह वीडियो मिले हैं।

कौशांबी में गैंगरेप मामले में जेल में बंद भाजपा विधायक करन सिंह पटेल का नाती रितिक पटेल दबंग के साथ-साथ अय्याश भी है। गुरुवार को पुलिस को उसके मोबाइल की जांच में ऐसे कई वीडियो मिले हैं, जिसमें वह रंगरलियों में डूबा हुआ है। रितिक अपने साथियों के साथ जेल में है। उधर, पीड़िता को अपनी जान का डर अब सता रहा है।

दरअसल, इसी 24 अगस्त को टैक्सी का इंतजार कर रही महिला को लग्जरी कार सवार रितिक सिंह पटेल, दीपू सिंह और आकाश तिवारी ने अगवा करके उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था। उसका वीडियो भी बना लिया था। वीडियो के आधार पर उसे धमका रहे थे। महिला को मुंह बंद रखने की धमकी दी गई थी। तमाम दबावों के बीच 30 अगस्त को महिला ने दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपियों को जेल भेज दिया था।

पुलिस जांच में सामने आया है कि आरोपी रितिक फतेहपुर की बिंदकी विधानसभा सीट के भाजपा विधायक करन सिंह पटेल के सगे भांजे का लड़का है। केस की शुरुआत में रितिक ने पुलिस पर भी विधायक को अपना बाबा बताकर दबाव बनाया था।

क्या है वीडियो में?
रितिक के केस की जांच में रोज नए खुलासे हो रहे हैं। गुरुवार को पुलिस द्वारा उसके मोबाइल की जांच में उसकी अय्याशियों के कई वीडियो मिले हैं। इसमे एक वीडियो में रितिक सिंह पटेल किसी अज्ञात स्थान पर दर्जनों युवको के बीच स्टेज पर युवतियों के साथ डांस करता दिखाई पड़ रहा है। वह नशे में इस कदर डूबा है कि डांस के दौरान उसके कदम लड़खड़ा रहे हैं। वह डांस करने वाली युवतियों से छेड़खानी करता हुआ भी दिख रहा है।

रितिक सिंह पटेल किसी अज्ञात स्थान पर युवतियों के साथ डांस करता दिखाई पड़ रहा है।
रितिक सिंह पटेल किसी अज्ञात स्थान पर युवतियों के साथ डांस करता दिखाई पड़ रहा है।

पीड़िता को है जान का खतरा
उधर, पीड़ित महिला का मेडिकल चेकअप कराके घर भेज दिया है। पीड़िता ने बताया, आरोपी भले ही जेल की सलाखों के पीछे चले गए हो, लेकिन वारदात के बाद से उन्हें बचाने की कोशिश करने वालों से अब भी उसे खतरा है। पुलिस को उसे सुरक्षित करने का बंदोबस्त करना चाहिए। हालांकि, अभी तक उसने सुरक्षा की मांग पुलिस अधिकारियों ने नहीं की है।

ग्रामीणों के मुताबिक रितिक पूरे दिन विधायक लिखी लग्जरी गाड़ियों से घूमा करता था। क्षेत्र में हर छोटी बड़ी घटना में उसका सीधे हस्तक्षेप होता था।
ग्रामीणों के मुताबिक रितिक पूरे दिन विधायक लिखी लग्जरी गाड़ियों से घूमा करता था। क्षेत्र में हर छोटी बड़ी घटना में उसका सीधे हस्तक्षेप होता था।

14 दिन बाद बैरक में भेजा जाएगा
जेलर राकेश सिंह ने बताया कि जेल दाखिले के बाद बंदियों को कोविड नियमो के तहत अभी अस्थाई कारागार में रखा गया है। 14 दिन बाद उन्हें बैरक में भेजा जाएगा।

खबरें और भी हैं...