कौशांबी में तालाब पर अवैध कब्जा:नौ ग्रामीण को तहसील प्रशासन ने दिया नोटिस, अवैध तरीके से बना लिया है मकान

कौशांबी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कौशांबी में सरकारी तालाब पर अवैध कब्जा। - Dainik Bhaskar
कौशांबी में सरकारी तालाब पर अवैध कब्जा।

चायल तहसील क्षेत्र के आलमपुर गांव में दबंगों ने तालाब की सरकारी जमीन पर अवैध तरीके से कब्जा कर उस पर मकान बना लिया है। इस कारण लोगों के घरों से निकलने वाला पानी रास्ते में इकट्ठा हो रहा है। शिकायत पर हुई जांच के बाद तहसीलदार चायल ने गांव के नौ लोगों को नोटिस जारी करते हुए तालाब को खाली करने का आदेश दिया है।

तिलगोड़ी गांव के मजरा आलमपुर में स्थित आराजी संख्या 211 सरकारी तालाब के रूप में दर्ज है। इस तालाब पर गांव के ही असरदार लोगों ने अवैध तरीके से मकान बनाकर कब्जा कर लिया है। ग्रामीणों ने शिकायत किया है कि तालाब पर अवैध कब्जा होने के कारण बरसात का गंदा पानी गांव की गलियों में ही इकट्ठा हो रहा है। इस कारण गांव में संक्रामक बीमारी फैल रही है। ग्रामीणों की शिकायत पर तहसील प्रशासन ने मौके पर जाकर जांच किया तो तालाब की भूमि पर अवैध कब्जा मिला। इस पर तहसील प्रशासन ने कब्जा करने वाले ग्रामीणों को हटाने के लिए पंद्रह दिन का समय दिया। निश्चित समय के बाद भी तालाब से अभी तक अवैध कब्जा नहीं हटाया गया है।

कब्जा नहीं हटाने पर होगी कार्रवाई

तहसीलदार ने गांव के लखन लाल पुत्र रामचुरावन, शिव नारायण पुत्र राम दुलारे, अजयपाल पुत्र शिवबोध, कंधई लाल पुत्र दुलारे, ओम प्रकाश पुत्र रामसूरत, राधेश्याम पुत्र सम्पत, राम शिरोमन पुत्र रामसजीवन, नन्द लाल पुत्र लल्लू, कुंवर मगन सिंह पुत्र ज्ञान सिंह सहित कुल नौ लोगों को नोटिस जारी किया है। तहसील चायल दीपिका सिंह ने बताया, "आलमपुर गांव में तालाब के खाली कराने के लिए नौ लोगों के नोटिस जारी की गई है। यदि इसके बाद भी कब्जेधारक अवैध कब्जा नहीं हटाते हैं तो आगे बुलडोजर से भवन गिराने की कार्रवाई की जायेगी।

खबरें और भी हैं...