कौशांबी में 3 बार टकराई बस, एक की मौत-12 जख्मी:अजमेर शरीफ से बंगाल जा रहे थे 63 यात्री, ड्राइवर को झपकी आने से हुआ हादसा

कौशांबी21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कौशांबी में शनिवार देर रात ढाई बजे 63 यात्रियों से भरी हुई प्राइवेट बस लगातार तीन बार हादसे का शिकार हो गई। इसमें बस मालिक की मौत हो गई, जबकि 12 यात्री जख्मी हुए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यात्रियों ने बताया कि शुक्रवार को पश्चिम बंगाल से अजमेर शरीफ के ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर जियारत करके सभी वापस लौट रहे थे। तभी बस के ड्राइवर को अचानक झपकी आ गई। जिससे बस बेकाबू होकर पहले सड़क किनारे खड़ी कार से टकराई। उसके बाद पेड़ और फिर बिजली के पोल में जा घुसी। हादसे में बस के परखचे उड़ गए।

6 की हालत गंभीर, जिला अस्पताल में भर्ती
घटना सैनी थाना क्षेत्र के अझुआ कस्बे में एनएच-2 पर हुई। यहां सड़क किनारे खड़ी कार को टक्कर मारते हुए ट्रैवल बस सर्विस लेन पर पेड़ और बिजली के पोल से टकरा गई। हादसे के बाद बस के अंदर चीख-पुकार मच गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बस में सवार सभी यात्रियों को बाहर निकाला।

करीब 12 घायलों को स्थानीय लोगों की मदद से नजदीकी PHC में भर्ती कराया। जिसमें से हालत गंभीर होने पर 7 यात्रियों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। यहां उपचार के दौरान बस मालिक हसन (65) ने दम तोड़ दिया। जबकि कोरेशा बीबी (45), युशुफ (55), तौसीफ अली (60), सर्फ़द्दीन (30), मुरशीदा (30), मुस्तकी बेगम (7) की हालत गंभीर बनी हुई है।

ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर माथा टेकने गए थे यात्री।
ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर माथा टेकने गए थे यात्री।

बाल-बाल बचे यात्रियों को घर भेजने की हो रही तैयारी
अझुआ चौकी प्रभारी विजेंद्र सिंह ने बताया कि ड्राइवर को झपकी आने के कारण बस हादसे का शिकार हुई। बिजली के पोल को कटवा कर यात्रियों को बस से बाहर निकाला गया। घायल यात्रियों को प्राथमिक उपचार के बाद उनके गंतव्य पर भेजने की तैयारी की जा रही है।

खबरें और भी हैं...