बंद बोरे से निकला जिंदा युवक:कौशांबी में सड़क किनारे हिलता बोरा देख ग्रामीणों ने पुलिस को बुलाया, हफ्तेभर पहले प्रयागराज से हुआ था किडनैप

कौशांबी3 महीने पहले

कौशांबी में चरवा क्षेत्र के कमालपुर गांव के पास शनिवार सुबह एक हैरतअंगेज करने वाली घटना सामने आई। यहां ग्रामीणों ने देखा सड़क किनारे पड़ा एक बोरा हिल रहा है। उन्हें शक हुआ कि इस बोरे में या तो कोई आदमी है या जानवर। ग्रामीणों ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने जब बोरी को खोला तो उसमे से जिंदा युवक बाहर निकला। युवक ने बताया कि हफ्ते भर पहले उसका प्रयागराज से अपहरण कर लिया गया था।

मार्निंग वॉक पर निकला था, हो गया था किडनैप
प्रयागराज बॉर्डर पर पिपरी थाना क्षेत्र के डाही नुमाया गांव निवासी शिवमूरत प्रजापति (40) प्लाटिंग का काम करता है। करीब बीस साल से वह गांव छोड़ कर प्रयागराज के मुंडेरा नीम सराय की एलआईजी कालोनी में परिजनों के साथ रहता है। शिवमूरत के मुताबिक, आठ अक्टूबर की सुबह वह घर से मॉर्निंग वाक के लिए कालोनी के बाहर निकला हुआ था। कार सवार चार बदमाशों ने उसका अपहरण कर लिया। सप्ताह भर उसे किसी अंजान जगह पर रखा। इस दौरान साइन करवा के उसकी एक जमीन की जबरदस्ती रजिस्ट्री भी करवा ली है।

गांव के बाहर छोड़ गए थे किडनैपर।
गांव के बाहर छोड़ गए थे किडनैपर।

किडनैपर का काम हो गया तो छोड़ दिया
आरोपी शनिवार को उसे बोरी में बंद कर कमालपुर गांव के बाहर सड़क किनारे छोड़ कर चले गए। पुलिस ने युवक के होश में आने के बाद उससे पूछताछ करते हुए उसे चरवा अस्पताल लेकर गई है। हालांकि, अब तक यह पता नहीं चल पाया है कि अगर युवक का किडनैप हुआ था तो उसकी एफआईआर दर्ज है या नहीं। अपहरण करने वाले बदमाश कौन थे? पुलिस इसका भी पता कर रही है।

खबरें और भी हैं...