कुशीनगर में स्मार्टफोन के लिए 60 कॉलेजों में वसूली:मांगे जा रहे 500 से 1 हजार रुपये, ABVP ने किया खुलासा; सदर विधायक बांट रहे थे स्मार्टफोन

कुशीनगर3 महीने पहले

कुशीनगर में सीएम योगी की फ्री स्मार्टफोन वितरण योजना में भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। जिले में 70 कॉलेजों में 60 कॉलेज में छात्रों से निशुल्क स्मार्टफोन के नाम पर पैसों की वसूली की गई है। ए.पी महाविद्यालय के छात्रों ने जब अखिल भारती विद्यार्थी परिषद के छात्र नेताओं से शिकायत तो विरोध शुरू हो गया। घंटों हंगामे के बाद मौके पर पहुंचे सदर विधायक ने बच्चों को समझाया और छात्रों से कि गई वसूली के पैसे वापस भी कराए गए। ए.पी महाविद्यालय प्रबंधन ने लिपिक पर कार्रवाई करते हुए कॉलेज से निकाल दिया।

विरोध के बाद छात्रों से लिए गए पैसों को विद्यालय प्रशासन ने वापस कर दिया।
विरोध के बाद छात्रों से लिए गए पैसों को विद्यालय प्रशासन ने वापस कर दिया।

500 से 1000 रुपये की हो रही वसूली

सोमवार को ए.पी. महाविद्यालय में स्मार्टफोन वितरण का कार्याक्रम था। 100 बच्चों को स्मार्टफोन मिलना था। भाजपा पार्टी के सदर विधायक मनीष जायसवाल मुख्य अतिथि के रूप में छात्रों को स्मार्टफोन वितरण करने के लिए आमंत्रित थे। इधर एवीबीपी के छात्र नेताओं को पता चला कि महाविद्यालय प्रबन्धन ने सभी छात्रों से 500 रुपये से लेकर एक हजार रुपये की अवैध वसूली कर रहा है। छात्र नेताओं ने हंगामा शुरू कर दिया।

महाविद्यालय में लिए जा रहे पैसे

एबीवीपी के छात्रों ने आरोप लगाया कि जिले में 70 महाविद्यालय हैं। एक दो महाविद्यालय को छोड़ दिया जाए तो अधिकत्तर महाविद्यालय में पैसों की वसूली हो रही है। एबीवीपी से जुड़े छात्रनेता धवन जायसवाल ने कहा कि दुद्धी के सरस्वती विश्वनाथ महाविद्यालय और लक्ष्मीपुर के ए.पी. महाविद्यालय में छात्रों से एक-एक हजार रुपये लेने की पुष्टि हुईं है। बता दें कि ए.पी महाविद्यालय में 685 फोन बांटे जाने हैं।

ए.पी महाविद्यालय में 685 स्मार्टफोन बांटे जाने हैं।
ए.पी महाविद्यालय में 685 स्मार्टफोन बांटे जाने हैं।

सरकार को बदनाम करने की कोशिश

छात्र नेता अभिषेक ने कहा कि प्रदेश में योगी सरकार ने डिजिटल युग में बच्चों की पढ़ाई के लिए इंटर पास करने वाले छात्रों को निःशुल्क स्मार्टफोन देने का वादा किया था। दोबारा सरकार में आने के बाद अपने वादे को पूरा कर रही। महाविद्यालयों में निःशुल्क स्मार्टफोन वितरण शुरू कर दिया गया। जिले के एक दो महाविद्यालय को छोड़ बाकी सभी जगह अवैध वसूली की जा रही, जो सरकार को बदनाम किया जा रहा।

बच्चों के वापस कराए गए पैसे

ए.पी. महाविद्यालय के संचालक जाकिर हुसैन ने बताया कि एबीवीपी के छात्रों ने महाविद्यालय के ऊपर आरोप लगाया है। उससे पहले किसी छात्र ने कोई बात नहीं बताई थी। पता चलते ही जांच कराई तो पाया कि एक लिपिक ने 20 से 25 बच्चों से पैसे लिए थे। तुरन्त उसे निकाल आगे की कार्रवाई की जा रही है। साथ ही सभी बच्चों के पैसे भी वापस करा दिए गए हैं। बाकी शासन के मंशा के अनुरुप ही निःशुल्क वितरण हो रहा।

स्मार्टफोन वितरण समारोह में सदर विधायक मनीष जायसवाल को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया गया था।
स्मार्टफोन वितरण समारोह में सदर विधायक मनीष जायसवाल को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया गया था।

8 हजार छात्रों को दिया जाना है फोन

जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि कुशीनगर में 8860 बच्चों तो स्मार्टफोन बांटे जाने हैं। जिनको सम्बंधित विद्यालय में स्मार्टफोन भेज दिए गए हैं। जिनको बांटा भी जा रहा है। ए.पी. विद्यालय के खिलाफ पैसे लेने की शिकायत मिली तो उसके खिलाफ कार्रवाई के लिए रिपोर्ट भेज दी गई है।

खबरें और भी हैं...