कुशीनगर में 3 दिन से आमरण अनशन पर बैठे सभासद:नगर अध्यक्ष पर लगाए हैं घोटाले के आरोप, धरने के कारण विकास के काम रुके

कुशीनगर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आमरण अनशन पर बैठे सभासद। - Dainik Bhaskar
आमरण अनशन पर बैठे सभासद।

कुशीनगर में नगर पंचायत सभासद के आमरण अनशन को 3 दिन हो चुके हैं। उन्होंने नगर के अधिशासी अधिकारी देवेश मिश्रा और नगर अध्यक्ष रुकसाना लारी पर भ्रष्टाचार और घोटाले का आरोप लगाया है। उन्होंने मामले की जांच कर कार्रवाई करने की मांग की है। नगर अध्यक्ष प्रतिनिधि ने सभासदों द्वारा लगाए जा रहे सारे आरोपों को राजनीति बताया है।

अभी भी जारी है अनशन

खड्डा नगर पंचायत के सभासदों ने नगर पंचायत से जुड़े विभिन्न मांगों को लेकर बुधवार से आमरण अनशन शुरू कर दिया है। अनशन के पहले ही दिन तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर आश्वासन देकर सभासदों को मनाने का पूरा प्रयास किया, लेकिन सभासद कार्रवाई की मांग पर अड़े रहे। अभी भी अनशन जारी है।

सुभाष चौक पर कर रहे प्रदर्शन

अनशन पर बैठे नामित सदस्य संतोष तिवारी ने बताया कि खड्डा नगर पंचायत में व्याप्त भ्रष्टाचार निकाय बोर्ड की बैठक नहीं होने और अधिशासी अधिकारी के मनमानी और अध्यक्ष के प्रतिनिधि व उनके पुत्र नासिर लारी द्वारा भ्र्ष्टाचार और सरकारी जमीन बेचे जाने समेत 12 सूत्रीय मांगों को लेकर नगर पंचायत के कुछ सभासदों के साथ बुधवार को नगरपंचायत के सुभाष चौक पर धरना प्रदर्शन शुरू किया।

पुलिस ने की समझाने की कोशिश

उन लोगों ने प्रशासन को चेताया था कि अगर उनकी मांगों पर जल्द कार्रवाई नहीं की गई, तो हमारा धरना आमरण अनशन में तब्दील हो जाएगा। बुधवार से ही धरनारत सभासदों ने आमरण अनशन की घोषणा कर दी। जिसके बाद तहसीलदार ने समझाने की कोशिश की। पर कोई फायदा नहीं हुआ।

आम जन का हो रहा नुकसान

नगर अध्यक्ष और सभासदों के बीच छिड़ी जंग में आम जन परेशान हो रहे हैं। सपा नगर पालिका अध्यक्ष और भाजपा के मनोनीत सदस्य एक दूसरे पर विकास कार्यो में अवरोध बनने का आरोप लगा रहे हैं। इसमें नुकसान आम जनता का हो रहा है।

खबरें और भी हैं...