कुशीनगर में विसागर हत्याकांड का खुलासा, पत्नी और भांजा गिरफ्तार:मामी के प्यार में पड़े भांजे ने शूटर दोस्त के साथ मिलकर मामा को मारी थी गोली

कुशीनगर2 महीने पहले

कुशीनगर के अहिरौली दान निवासी विसागर की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया है। जिसकी कहानी मामा-भांजे के रिश्ते को शर्मसार कर दी है। मामी के प्यार में पागल भांजे ने अपने शूटर दोस्त के साथ मिलकर अपने मामा की हत्या को अंजाम दिया था। पुलिस ने हत्यारों पर इनाम भी घोषित किया था। जिसमें मामी और भांजे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही पुलिस ने शूटर को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने पूछताछ के बाद तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया।

बीते 13 नवंबर को सिसवा मार्ग पर अहिरौलीदान के लोकनहा टोला रहने वाले टेन्ट हाउस कारोबारी की हत्या हुई थी। व्यापारी विसागर को मोटरसाइकिल सवार दो अज्ञात बदमाशों ने गोली मार थी। घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश फरार हो गए थे। जिसके बाद मामले के खुलासे में पुलिस की चार टीम जुटी थी। कुएसपी ने हत्यारों को गिरफ्तार करने के लिए दोनों अपराधियों पर 25-25 हज़ार का इनाम भी घोषित किया था। पुलिस की छानबीन में मामला मृतक की पत्नी और भांजे के प्रेम प्रसंग से जुड़ा हुआ पाया गया।

पुलिस मुठभेड़ में शूटर को लगी गोली।
पुलिस मुठभेड़ में शूटर को लगी गोली।

मृतक मामी और भांजे के प्यार में बन रहा था रोड़ा
पुलिस के अनुसार गहनता से जांच में मिला कि बिहार का रहने वाला रवि और मृतक की पत्नी की बीच अवैध प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों के बीच में मृतक विसागर रोड़ा बन रहा था। जिसकी वजह से भांजे ने अपनी मामी के साथ मिलकर मामा को ही ठिकाने लगाने का प्लान बनाया। रवि रंजन ने अपने एक सहयोगी रोहित जो बिहार का ही रहने शूटर का काम करने वाला अपराधी था उसके साथ मामा के सिर में गोली मार दिया और वहां से फरार हो गए। सूचना के बाद पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया पर उसकी मौत हो गई।

शूटर को पुलिस मुठभेड़ में लगी गोली
हत्या में शामिल अभियुक्तों में पुलिस को सलेमगढ़ चौराहा के पास से अभियुक्त रवि उर्फ रवि रंजन और उसकी मामी जो मृतक कि पत्नी थी दोनों को गिरफ्तार कर लिया। बीती देर रात पुलिस ने हत्या को अंजाम देने वाले अभियुक्त रवि के दूसरे साथी रोहित को एक मुठभेड़ के दौरान धर दबोचा। पकड़े गए दोनों शातिर बदमाश बिहार राज्य के गोपालगंज के फुलुगनी गांव के रहने वाले है।

खबरें और भी हैं...