तमकुही राज में दो दशकों से सड़ रहे हजारों वाहन:मुकदमों व लावारिस हाल में पड़े एक हजार से ऊपर ट्रक, बस, पिकप व लग्जरी कारें

तमकुही राज10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

तमकुहीराज पुलिस सर्किल के थाना परिसर में विभिन्न मुकदमों व लावारिस अवस्था में मिली करीब एक हजार से ऊपर ट्रक, बस, पिकप, लग्जरी कार व बाइक खुले आसमान के नीचे धूप, बारिश व धूल खा कर सड़ रही है।

लेकिन उच्चाधिकारियों के निर्देश के बाद भी इन बाइकों की नीलामी की प्रक्रिया शुरू नहीं की गई। जबकि अधिकांश बाइक के अधिकांश कलपुर्जे गायब भी बताये जा रहे है। अगर नीलामी की जाय तो सरकार को लाखों रुपये राजस्व की प्राप्ति हो सकती है।

ज्ञात हो कि करीब दो दशक साल से अपराधियों, तस्करी व लावारिश सहित विभिन्न मामलों में पुलिस द्वारा पकड़ी गई, करीब एक हजार से ऊपर ट्रक, बस, लग्जरी कार, पिकप व बाइक तमकुहीराज पुलिस सर्किल के थाना तरयासुजान, पटहेरवा, सेवरही, विशुनपुरा व बरवापट्टी के परिसर में खुलेआम आसमान के नीचे धूप, बारिश व धूल खा कर खराब हो रही है।

बताया जाता है कि अधिकांश बाइक इनमें ऐसी है। जिनका मुकदमें भी निस्तारित हो चुके है। केवल इनको बाइकों सूचीबद्ध करनी है, कि कितनी बाइक व अन्य वाहनों को नीलामी प्रक्रिया में शामिल होनी है।

पूर्व में सर्किल के थाने के निरीक्षण करने करने के दौरान पूर्व पुलिस कप्तान विनोद कुमार मिश्र ने उस समय सर्किल के थानों के प्रभारी रहें लोगों को उक्त वाहनों व बाइकों को तत्काल नीलामी प्रक्रिया पूर्ण कर परिसर को साफ- सुथरा बनाने का निर्देश दिया था। लेकिन उनके स्थानांतरण के बाद उनका दिया गया आदेश ठंडे बस्ते में डाल दिया गया।

जिसके कारण अभी तक नीलामी प्रक्रिया की बात कौन करे, नीलामी प्रक्रिया में शामिल होने वाले वाहनों व बाइकों को चिंहित भी नही किया जा सका। जिससे यह सभी बाइक जंग खा कर खराब हो रही है। अगर इन्हें समय से नीलाम कर दिया जाय तो विभाग को लाखों की राजस्व की प्राप्ति हो सकती है।

इस सबंध में प्रभारी निरीक्षक तरयासुजान कपिलदेव चौधरी कहते है, कि पता करता हूँ कि कितने वाहन व बाइक नीलामी प्रक्रिया में शामिल करने योग्य है। उसके बाद उच्चाधिकारियों के निर्देश के अनुसार आगे की प्रक्रिया शुरू की जायेगी।

खबरें और भी हैं...