तमकुही राज में भ्रष्टाचार पर विधायक का चढ़ा पारा:दैनिक भास्कर की खबर का दिखा असर, जेई से किए सवाल जवाब

तमकुही राज13 दिन पहले

तमकुहीराज। विधायक का काफिला अपने गंतव्य की ओर बढ़ रहा था कि अचानक झारही नदी के दोनों तरफ बिना मार्ग के ही बन रहे पुल को लेकर भास्कर द्वारा चलाई गयी खबर को संज्ञान में लेते हुए स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने पीडब्ल्यूडी के अभियंताओ से पुल का डीपीआर एवं उसके औचित्य पर सवाल खड़े किए हैं। वहीं मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने पु‌ल निर्माण पर खुशी जताते हुए दोनो तरफ लिंक मार्ग बनवाने की मांग भी की है। ग्रामीणों का कहना था कि बगैर लिंक मार्ग पुल का कोई औचित्य नहीं रह जाएगा।

तमकुहीराज विधानसभा क्षेत्र के धुरिया कोट में लोक निर्माण विभाग द्वारा पुल का निर्माण कराया जा रहा है। जहां पर पु‌ल बन रहा है, वहां एक तरफ कोई संपर्क मार्ग नहीं है। उस तरफ ग्रामसभा की जमीन पर वन लगवाए गए हैं। जहां जंगली जीव जंतु विचरण करते हैं। बगैर सड़क पुल निर्माण एवं पुल निर्माण के दौरान हो रहे वन संपदा की क्षति को लेकर ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन भी किया था। जिसे भास्कर ने 12 मई को "सड़क नहीं फिर भी पुल का निर्माण शीर्षक" से खबर चलाया था।

भास्कर की खबर को संज्ञान लेकर तमकुहीराज के विधायक डाक्टर असीम कुमार ने मौके पर पहुंच कर स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने बगैर सड़क पुल के औचित्य पर पीडब्ल्यूडी के अभियंताओ से सवाल किए। अभियंताओ ने बताया कि इस पुल के साथ 1600 मीटर का अप्रोच है, जिसे जरूरत के अनुसार दोनों तरफ बनाया जाएगा। वहीं दूसरी तरफ प्रसिद्ध देवी मां का स्थान है। पर्यटन के नजरिये से उसका भी विकास हो सकेगा। विधायक ने दोनों जगहों पर जाकर उसका निरीक्षण किया।

उन्होंने बताया कि पीडब्ल्यूडी से पुल निर्माण से संबं‌धित सारी जानकारी मांगी जा रही है। अगर उसमें सड़क निर्माण की बात शामिल होगी तो ग्रामीणों के आग्रह को देखते हुए परियोजना रोकी नहीं जाएगी। सड़क निर्माण नहीं होने की दशा मे पुल का निर्माण औचित्य विहीन होगा। इस दौरान धुरिया हाता के ग्रामप्रधान विरेद्र प्रसाद, ग्रामप्रधान संतोष चौरसिया, ग्राम प्रधान रमेश गुप्ता, ग्रामप्रधान अनुप राय, ग्रामप्रधान रजनीश राय, पूर्व प्रधान ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह, अभिषेक आनन्द पाठक, रवि राय, नगनराण सिंह, अनिरूद्ध सिंह, मुन्ना सिंह, हारून अंसारी आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...