मितौली में क्लीनिक सीज किया:स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छापेमारी की, नोटिस जारी किया

मितौली, लखीमपुर खीरी16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अवैध तरीके से अस्पतालों का संचालन करना अब आसान नहीं होगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी शैलेंद्र कुमार भटनागर के निर्देशन में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मितौली अधीक्षक के पर्यवेक्षण में अवैध अस्पतालों पर निरंतर छापेमारी का कार्य किया जा रहा है। इसी क्रम में चिकित्सा टीम मितौली अधीक्षक डॉ. देवेंद्र सिंह के साथ कई झोलाछाप क्लीनिक पर छापामारी कर जांच की।

जांच के दौरान अस्पताल डॉक्टर बंगाली क्लीनिक फतेहपुर में चल रहा था, जिसके पास अस्पताल संचालन के कोई वैध दस्तावेज नहीं पाए जाने पर देवेंद्र सिंह के नेतृत्व वाली चिकित्सा टीम के द्वारा बंगाली क्लीनिक को सील कर दिया। वहीं फतेहपुर में ही बाजपेयी क्लीनिक के पास कोई दस्तावेज नहीं उपलब्ध होने नोटिस दिया गया है। तीन दिन के अंदर यह दस्तावेज नहीं दिखा पाते हैं तो उनका हॉस्पिटल सील करने की कार्रवाई के नियमानुसार की जाएगी।

चिकित्सा जांच टीम के पहुंचते हैं कस्बा फतेहपुर में क्लीनिक संचालकों में अफरा तफरी मच गई। अस्पताल संचालक क्लीनिक चलाने वाले दुकानों के शटर गिराकर भागते हुए नजर आए जो दरवाजा बंद करके चले गए चिकित्सा टीम ने उनको चेतावनी देते हुए कस्बा वासियों से बताया अस्पताल का संचालन करना है तो अस्पताल क्लीनिक संचालन के दस्तावेज उपलब्ध कराने के बाद ही अस्पतालों और तीनों का संचालन करने दिया जाएगा, यदि इसके विरुद्ध कोई मनमर्जी से अपने अस्पताल क्लीनिक का संचालन करेगा जो नियमानुसार नहीं होगा आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। जांच टीम रात दिन भ्रमण करके क्षेत्र का जायजा ले रही है। फतेहपुर कस्बे में चिकित्सा टीम द्वारा बंगाली बाजपाई क्लिनिक पर जो कार्यवाही की गई, क्लीनिक संचालकों के पास किसी प्रकार के दस्तावेज नहीं पाएंगे और जो क्लीनिक का संचालन किया जा रहा था मानक विहीन नियमानुसार नहीं था।

खबरें और भी हैं...