लखीमपुर खीरी…24 लोग कोरोना पॉजिटिव:पलिया में कोरोना के मिले दो दर्जन मामले, नेपाल से आने वाले लोगों के पास नहीं होता टीकाकरण का प्रमाण पत्र

लखीमपुर खीरी7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना - Dainik Bhaskar
कोरोना

लखीमपुर खीरी के पलिया कलां नगर में कोरोना का विस्फोट हुआ। देखते ही देखते हैं कई लोग संक्रमित निकलने लगे। इन दिनों एक बार फिर से कोरोना महामारी ने अपना विकराल रूप दिखाना शुरु कर दिया है। जिससे तमाम आला अधिकारी और सरकार की गाइडलाइन में लगातार कहा जा रहा है कि मास्क सोशल, डिस्टेंसिंग का पालन करें। लेकिन लोगों की लापरवाही ने एक बार फिर से महामारी को आमंत्रण दे दिया।

24 मरीज मिले कोरोना के

इसका उदाहरण पलिया कलां में देखने को मिला. यहां लगभग दो दर्जन लोग कोरोना संक्रमण की जद में आ चुके हैं। वहीं जानकारों का कहना है कि जिस तरह से कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाते हुए डग्गामार बसों में भारत व नेपाल के दूरदराज के राज्यों से लाकर पलिया में संक्रमण फैलाने का काम किया जा रहा है।

स्वास्थ्य विभाग बना हुआ है लापरवाह

यही नहीं नेपाल से आने वाले लोगों का ना तो भारतीय स्वास्थ्य कर्मियों के पास आरटी पीसीआर रिपोर्ट दिखाई जाती है और ना ही कोरोना टीकाकरण का कोई प्रमाण होता है। जबकि गौरीफंटा बॉर्डर पर प्रतिदिन हजारों की संख्या में नेपालियों का आवागमन से पास पड़ोस होता है। इससे क्षेत्रों में संक्रमण का खतरा मंडराता रहता है। अगर इसी विषय पर स्वास्थ्य महकमे की बात की जाए तो भारतीय बॉर्डर पर बैठे स्वास्थ्य कर्मियों के पास अभी कोई खासा इंतजाम देखने को नहीं मिल रहा।

खबरें और भी हैं...