बेटी को छेड़ा तो मां ने काटा प्राइवेट पार्ट:घर में घुसकर युवक ने की दुष्कर्म की कोशिश, मां बोली- अब हवस नहीं दिखा पाएगा

लखीमपुर-खीरीएक महीने पहले

लखीमपुर खीरी में बेटी से दुष्कर्म का प्रयास करने पर मां ने आरोपी का चाकू से प्राइवेट पार्ट काट दिया। इससे युवक बुरी तरह से जख्मी हो गया। महिला का आरोप है कि युवक उसके घर घुस आया और उसकी 14 साल की बेटी से रेप का प्रयास किया।

पुलिस ने महिला की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर ली है। उधर युवक को गंभीर हालत में जिला अस्पताल से लखनऊ रेफर कर दिया गया है। मामला कोतवाली सदर के महेबागंज मोहल्ले का है।

खबर में आगे बढ़ने से पहले पोल में हिस्सा ले सकते हैं...

पढ़िए बेटी के सम्मान पर हमले की कहानी, मां की जुबानी...

मां बोली- अब किसी को नहीं बना पाएगा हवस का शिकार
"सुबह पूरा परिवार खेत पर काम करने गया था। बेटी घर में अकेली थी। इस दौरान बगल के मोहल्ले का एक युवक घर में घुस गया और बेटी से दुष्कर्म की कोशिश की। वह चिल्लाने लगी। इसी बीच संयोग से मैं घर आ गई।

मेरी बेटी अस्त-व्यस्त स्थिति में थी। किसी तरह घर से निकलने की कोशिश कर रही थी। मगर आरोपी उसे बुरी तरह से दबोचे हुए था। मैं दौड़कर उसे पकड़ने लगी। तो उसने मुझ पर हमला कर दिया।

आरोपी युवक की गंभीर हालत को देखते हुए लखनऊ रेफर किया गया है। आरोपी की जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
आरोपी युवक की गंभीर हालत को देखते हुए लखनऊ रेफर किया गया है। आरोपी की जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

उस पर इतना वहशीपन सवार था कि मुझे मारकर बेटी से दुष्कर्म करना चाहता था। मैंने भी उसकी पिटाई शुरू कर दी। वह अपने कपड़े उतारे हुए था। जब मुझे लगा कि मैं हार जाऊंगी तभी किचन में गई और चाकू लाकर उसका प्राइवेट पार्ट काट दिया। उससे करीब 40 मिनट तक लड़ी।

इसी बीच हमारे घर वाले आ गए। उन्होंने भी युवक को पीटा। प्राइवेट पार्ट काटने का मुझे पछतावा नहीं है। मैं उस समय इतने गुस्से में थी कि उसका मर्डर कर देती। इस तरह के दरिंदों को ऐसी ही सजा मिलनी चाहिए। अब वह किसी को हवस का शिकार नहीं बना सकेगा।"

ग्रामीणों ने बताया, "आरोपी युवक का नाम हरिशंकर है। वह शिव कॉलोनी में रहता है। हम लोग काम कर रहे थे। तभी चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनी। दौड़कर मौके पर पहुंचे तो देखा घर में एक युवक खून से लथपथ जमीन पर पड़ा था। तत्काल उसके परिजनों और पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंचे परिजनों ने उसे जिला अस्पताल पहुंचाया।

पीड़ित लड़की ने बताया, "अगर उसकी मां समय से नहीं पहुंचती तो आरोपी उसे मार देता।"
पीड़ित लड़की ने बताया, "अगर उसकी मां समय से नहीं पहुंचती तो आरोपी उसे मार देता।"

पीड़ित युवती ने कहा- मां ने बचा ली मेरी जान
पीड़ित युवती ने बताया, "सुबह 10 बजे के करीब मैं घर में अकेली थी। मेरी मां और परिवार के लोग काम पर गए हुए थे। इसी बीच दूसरे मोहल्ले का लड़का घर में घुस आया। उसने मुझे पकड़ लिया। मेरे साथ जबरदस्ती करने लगा। उसने मेरे कपड़े फाड़ दिए। मैं जोर-जोर से चिल्लाने लगी। तभी मेरी मां अचानक वहां आ गई और उन्होंने मुझे बचाने का प्रयास किया।"

पीड़िता ने कहा, "लड़के ने मेरी मां पर भी हमला कर दिया। मेरी मां अगर उस पर चाकू से वार नहीं करती तो वह मुझे मार डालता। मेरी मां ने अपनी जान की परवाह न कर मेरी इज्जत बचाई है।"

आरोपी युवक को 8 टांके लगाए गए
डॉक्टर संतोष मिश्रा ने बताया, "सर्जरी विभाग के डॉ. सतीश वर्मा ने युवक का इलाज किया है। युवक की हालत गंभीर है। उसे 8 टांके लगाए गए हैं। 3 घंटे तक ऑब्जर्वेशन में रखा गया। लेकिन उसकी स्थिति क्रिटिकल है। उसे इलाज के लिए लखनऊ मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है।"

कोतवाल बोले- जांच के बाद होगी कार्रवाई
कोतवाल चंद्रशेखर सिंह ने कहा, "आरोपी युवक मजदूरी करता है। उसकी 8 साल पहले शादी हुई थी। उसके 2 बच्चे हैं। फिलहाल, महिला की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।"

खबरें और भी हैं...