बाघ की मौत के मामले में वाहन चालक पर केस:लखीमपुर खीरी में सड़क किनारे मिला था बाघ का शव, शरीर पर थे चोट के निशान

लखीमपुर खीरी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाघ की मौत के मामले में वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज। - Dainik Bhaskar
बाघ की मौत के मामले में वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज।

लखीमपुर खीरी में दुधवा टाइगर रिजर्व बफरजोन के मैलानी रेंज की भरिगवां बीट में बाघ शावक का शव मिला था। मामले में वन विभाग ने अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है।

वन विभाग के अधिकारियों ने किया निरीक्षण

अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक प्रोजेक्ट टाइगर कमलेश कुमार और दुधवा टाइगर रिजर्व के पशु चिकित्सक डॉ. दया शंकर ने दुधवा मुख्यालय के पलिया में शव का परीक्षण किया। उन्होंने कहा कि बाघिन के पिछले पैरों में किसी वाहन की टक्कर से रगड़ के निशान हैं। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि रविवार सुबह भरिगवां जंगल से गुजरे गोला-खुटार हाईवे पर किसी छोटे वाहन की टक्कर लगने से बाघ शावक की मौत हुई है।

इसके चलते वन विभाग अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के तहत केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। दस साल पहले भी गोला-खुटार हाईवे पर भरिगवां बीट में ही अज्ञात वाहन की चपेट में आकर एक बाघ की मौत हो चुकी है।

बाघिन का शव देखने पहुंचा ग्रामीणों का हुजूम

दुधवा टाइगर रिजर्व बफरजोन के खुटार-गोला मार्ग पर मैलानी रेंज के जंगल में सड़क से कुछ दूर अंदर जंगल में बाघ का शव मिलने की सूचना इलाके में फैल गई। थोड़ी ही देर में घटनास्थल के आसपास ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। ग्रामीणों की भीड़ के चलते कई बार रोड पर जाम की स्थिति भी बनी।

खबरें और भी हैं...