लखीमपुर में पेड़ से लटके मिले दलित बहनों के शव:मां बोली- मेरे सामने उठा ले गए, रेप के बाद हत्या कर लटकाया

निंघासन/लखीमपुर खीरी3 महीने पहले

लखीमपुर में दो सगी दलित नाबालिग बहनों के शव एक पेड़ से लटकते मिले हैं। आरोप है कि बाइक सवार दो युवकों ने लड़कियों को उसकी मां के सामने से अगवा किया। इसके बाद जबरन बाइक पर बैठाकर भाग गए। मां ने रेप के बाद हत्या कर शव पेड़ से लटकाने का आरोप लगाया है। घटना निघासन थाना क्षेत्र की है। सूचना मिलते ही IG लखनऊ रेंज लक्ष्मी सिंह लखीमपुर पहुंच गईं। उन्होंने कहा कि परिजन जैसी शिकायत देंगे, उसी के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण पता चल सकेगा। साथ ही SP समेत भारी पुलिस फोर्स भी मौके पर पहुंच गई।

पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए लखीमपुर भेजा। घटना से नाराज लोगों ने निघासन चौराहे पर जाम लगा दिया है।

किशोरियों की मां ने बताई आंखों देखी
किशोरियों की मां ने रोते हुए बताया, ''बुधवार शाम करीब चार बजे 17 और 15 साल की मेरी दो बेटियां घर के बाहर बैठ कर आपस में बात कर रही थीं। इस दौरान मैं घर के बाहर नल पर बर्तन धो रही थी। अचानक एक बाइक पर दो युवक आए और मेरी दोनों बेटियों को बाइक पर जबरन बैठा लिया।''

उसने बताया, ''यह देखकर मैंने उन्हें रोकने की भी कोशिश की। मगर, बाइक सवार युवक ने मेरे पेट पर लात मार दी। बेटियों को लेकर फरार हो गए। घटना की जानकारी मिलते ही गांव के कई लोगों ने बाइक और पैदल ही, भाग रहे बाइक सवारों का पीछा किया। मगर, वे पकड़ में नहीं आए।'' मां ने बताया, ''काफी देर तलाश करने के बाद दोनों बेटियों के शव गांव से करीब डेढ़ किलोमीटर एक गन्ने के खेत में पेड़ से लटके मिले। मेरी बड़ी बेटी 10वीं और छोटी 7वीं की छात्रा थी।''

ASP अरुण कुमार भी लगातार गुस्साई भीड़ को समझाने में जुटे रहे।
ASP अरुण कुमार भी लगातार गुस्साई भीड़ को समझाने में जुटे रहे।

गुस्साए ग्रामीणों ने चौराहा किया जाम
शव मिलने के बाद परिजनों समेत ग्रामीणों ने निघासन चौराहा जाम कर दिया। इसके बाद पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। SP संजीव सुमन से ग्रामीणों की झड़प भी हो गई। इसके बाद SP ने प्रदर्शनकारियों को सख्त हिदायत भी दी। SP ने कहा, "कानून व्यवस्था सभी के लिए है। रोड जाम करना कोई विकल्प नहीं है।" स्थिति को संभालने के लिए ADM संजय सिंह, ASP अरुण कुमार सिंह CO संजय नाथ तिवारी भी पहुंच गए हैं।

बेटियों के शव मिलने के बाद माता-पिता का बुरा हाल है। काफी देर पूछने के बाद पिता ने बताया, "मैं जब घर पर गया, तो वहां कोई नहीं मिला। तभी मोहल्ले के एक लड़के ने मुझे पूरी घटना की जानकारी दी, तो मैं भी उधर की तरफ भागा जिधर सब गए थे। मेरे गांव में रहने वाले लड़के ने ही अपहरण कर हत्या की है।"

नाराज परिजनों और ग्रामीणों ने निघासन चौराहे पर पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।
नाराज परिजनों और ग्रामीणों ने निघासन चौराहे पर पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

सपा ने कानून-व्यवस्था पर उठाए सवाल
समाजवादी पार्टी ने इस मामले में ट्वीट करके योगी सरकार पर हमला बोला है। पार्टी के ट्वीट में पेड़ से लटकते बहनों के शव का वीडियो लगाया गया है। साथ ही लिखा गया है, ''महिला सुरक्षा को लेकर खोखले दावे करने वाले UP के मुख्यमंत्री की सच्चाई! लखीमपुर खीरी में दो नाबालिग दलित बहनों के शव पेड़ से लटकता मिले। योगी सरकार में गुंडे रोज कर रहे माताओं-बहनों का उत्पीड़न, बेहद शर्मनाक! मामले की जांच कराए सरकार, दोषियों को मिले कठोरतम सजा।''

सपा का ट्वीट।
सपा का ट्वीट।

प्रियंका गांधी ने कहा- दिल दहलाने वाली घटना
प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर लिखा, "लखीमपुर में दो बहनों की हत्या की घटना दिल दहलाने वाली है। परिजनों का कहना है कि उन लड़कियों का दिनदहाड़े अपहरण किया गया था। रोज अखबारों व टीवी में झूठे विज्ञापन देने से कानून व्यवस्था अच्छी नहीं हो जाती।आखिर UP में महिलाओं के खिलाफ जघन्य अपराध क्यों बढ़ते जा रहे हैं?"

प्रियंका गांधी का ट्वीट।
प्रियंका गांधी का ट्वीट।
खबरें और भी हैं...