बुलडोजर के खिलाफ अखिलेश का ट्वीट-वॉर:बोले- BJP किसानों पर जीप और दुकानदारों पर बुलडोजर चढ़वाती है, लखीमपुर में अतिक्रमण-विरोधी कार्रवाई में युवक का पैर टूटा था

निघासन (लखीमपुर खीरी)10 दिन पहले

यूपी में बुलडोजर के खिलाफ सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव मुखर हो गए हैं। वे लगातार आवाज उठा रहे हैं। बुलडोजर की स्पीड को थामने के लिए ट्वीट के जरिए उन्होंने अभियान शुरू किया है। ताजा मामला लखीमपुर के निघासन का है। बीते शनिवार को ​​​​​​सिंगाही रोड पर नगर पंचायत कार्यालय के सामने बुलडोजर अतिक्रमण हटाने पहुंचा था। इसी दौरान दुकानदार का पैर टूट गया। इस मामले में अखिलेश यादव ने ट्वीट के जरिए हमला बोला।

लखीमपुर के मामले में ट्वीट करके अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर हमला बोला।
लखीमपुर के मामले में ट्वीट करके अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर हमला बोला।

ट्ववीट में उन्होंने लिखा, "भाजपा के राज में किसानों पर जीप चढ़ाई जाती है। कभी दुकानदारों पर जानलेवा बुलडोजर, आज अतिक्रमण हटाने के भ्रष्ट अभियान में गुमटी हटाने गए बुलडोजर की चपेट में आया दुकानदार बुरी तरह घायल हो गया। सरकार पूरी जिम्मेदारी उठाते हुए दुकानदार के इलाज का पूरा खर्च उठाए।"

बुलडोजर से अतिक्रमण हटाने के दौरान खोखा मालिक शमशाद अली का पैर टूट गया।
बुलडोजर से अतिक्रमण हटाने के दौरान खोखा मालिक शमशाद अली का पैर टूट गया।

निघासन कस्बे में नगर पंचायत कर्मी सिंगाही रोड पर नाले से अतिक्रमण हटवाने पहुंचे थे। यहां के निवासी शमशाद अली पुत्र सादिक अली ने बताया कि सिंगाही रोड पर स्थित सड़क किनारे एक खोखा रखा था, जिसमें वह दाढ़ी बाल काटने का काम करता है। जब नगर पंचायत कर्मी JCB से हटाने लगे तो उसने एक दिन का समय मांगा, लेकिन नगर पंचायत कर्मी JCB से खोखे को हटाने का प्रयास करने लगे, जिससे खोखे और JCB की चपेट में आकर शमशाद का पैर टूट गया। उसे आनन-फानन में CHC ले जाया गया।

अधिकारी बोले- खुद खोखा हटाने में पैर टूटा
SDM श्रद्धा सिंह ने बताया कि, सड़क किनारे दुकानदारों के अतिक्रमण को हटाया जा रहा था। इसी बीच दुकानदार शमशाद अपने खोखे को स्वयं हटाने लगा, जिससे उसका पैर खोखे के नीचे दब गया और टूट गया। बुलडोजर की चपेट में आने से पैर नहीं टूटा है। EO जितेन्द्र कुमार ने बताया कि, एक दिन पहले सभी से अतिक्रमण हटाने के लिए कहा गया था। फिर भी जिन लोगों ने नहीं हटाया था, उनको टीम ने हटाने का प्रयास किया। अब युवक का पैर कैसे टूटा है, इसकी जानकारी नहीं है।

बुलंदशहर मामले में भी बोला था हमला
बुलंदशहर में 2 मई को अवैध निर्माण पर प्रशासन का बुलडोजर चला था। उसके मलबे में दबकर एक व्यक्ति घायल हो गया था। शुक्रवार को उसी युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। इस मामले में भी शनिवार को सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने ट्वीट किया।

बुलंदशहर में भी अतिक्रमण हटाने के दौरान एक युवक की मौत हो गई थी।
बुलंदशहर में भी अतिक्रमण हटाने के दौरान एक युवक की मौत हो गई थी।

उन्होंने लिखा कि, ‘बुलंदशहर में अतिक्रमण के नाम पर एक गरीब के घर बुलडोजर चलाने के दौरान घर के मलबे में दबकर घायल हुए व्यक्ति की मौत यूपी में जनाक्रोश का कारण बन गई है। बुलडोजर चढ़ा देने की धमकी भाजपा के राज में वसूली का नया तरीका बन गया है। बुलडोजर भाजपा का नया बाहुबली बन गया है।’’

उन्राव में भी युवक ने हाथ जोड़कर बुलडोजर न चलाने की गुहार लगाई थी।
उन्राव में भी युवक ने हाथ जोड़कर बुलडोजर न चलाने की गुहार लगाई थी।

उन्नाव के मामले में भी उठाए थे सवाल
इससे पहले उन्नाव से भी एक युवक का वीडियो सामने आया था। जिसमें युवक प्रशासन से हाथ जोड़कर बुलडोजर न चलाने के लिए कह रहा था। युवक का कहना था कि उसका घर और दुकान वैध है। उसने किसी भी जमीन पर अवैध निर्माण नहीं किया है।