निघासन में युवक ने बदले अपने बयान:कहा-अतिक्रमण हटवाने पहुंची टीम के कारण नहीं टूटा था पैर

निघासन3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लखीमपुर के निघासन कस्बे के सिंगाही रोड पर स्थित नाले पर अवैध रूप से रखे खोखों व अवैध अतिक्रमण हटवाने पहुंची नगर पंचायत की टीम के द्वारा अवैध रूप से रखे एक खोखे को हटाने के दौरान एक युवक का पैर टूट गया था। इसमें पीड़ित ने नगर पंचायत कर्मियों को दोषी ठहराया था, अब उसने अपने बयान बदल दिए हैं।

दरअसल मामले में अचानक नया मोड़ आ गया, मामले में एक फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी जितेंद्र कुमार के साथ एसडीएम श्रद्धा सिंह ने पीड़ित शमशाद का हालचाल पूछने अस्पताल पहुंचीं।

पीड़ित स्वयं को जिम्मेदार ठहराते हुए वीडियो में बता रहा है कि ने एक दिन पहले ही प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाने के लिए अवगत कराया गया था, लेकिन जिस दिन टीम अतिक्रमण हटाने के लिए आई उस दिन मैं स्वयं ही सामान हटाने का प्रयास करने लगा जिस कारण खोखे की चपेट में आकर मेरा पैर टूट गया।

अस्पताल में पीड़ित से जानकारी लेतीं एसडीएम।
अस्पताल में पीड़ित से जानकारी लेतीं एसडीएम।
खबरें और भी हैं...