ट्रांसफर के बदले पत्नी मांगने वाला जेई सस्पेंड:आहत कर्मचारी ने खुद को जिंदा जलाया था, मरने से पहले बोला- जेई ने मांगी थी एक रात के लिए पत्नी

लखीमपुर खीरी3 महीने पहले

लखीमपुर खीरी से एक सनसनीखेज खबर सामने आई है। यहां बिजली विभाग का एक लाइनमैन ट्रांसफर चाह रहा था, लेकिन उसके सामने जूनियर इंजीनियर (जेई) ने शर्मनाक शर्त रख दी। जेई ने कहा कि ट्रांसफर तभी होगा जब वह अपनी पत्नी को उसे सौंप देगा।

इस शर्त ने लाइनमैन को इस कदर आहत किया कि उसने घर आकर डीजल उड़ेला और खुद को आग के हवाले कर दिया। परिवार वाले उसे लखीमपुर ले गए। जहां से उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। रविवार को उसकी मौत हो गई। लेकिन मरने से पहले लाइनमैन ने जेई के खिलाफ बयान दिया है।

लाइनमैन का आरोप है कि जेई और उसके दलाल ट्रांसफर के बदले में मेरी पत्नी मांग रहे हैं। मैंने थाने में भी नंबर देकर शिकायत किया था, पर कुछ हुआ नहीं। फिलहाल मृतक का पूरा परिवार लखनऊ में है। अभी पुलिस को कोई तहरीर नहीं दी गई है। हालांकि डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने वीडियो का संज्ञान लेकर आरोपी जेई के निलंबन की सिफारिश की। साथ ही उसके खिलाफ विभागीय जांच शुरू करने के लिए निर्देश दिया। देर शाम अधीक्षण अभियंता राम शब्द ने आरोपी जेई नागेंद्र कुमार और टीजी-2 जगतपाल को सस्पेंड कर दिया है।

मौत से पहले लाइनमैन ने जेई के खिलाफ बयान दिया है।
मौत से पहले लाइनमैन ने जेई के खिलाफ बयान दिया है।

50 किमी दूर थी तैनाती, चाह रहा था घर के पास नौकरी
लखीमपुर में पलिया का रहने वाला गोकुल यादव (45 साल) बिजली विभाग में लाइनमैन था। वह पलिया का रहने वाला है। लेकिन उसकी एक साल से तैनाती घर से 50 किमी दूर अलीगंज में थी। इससे पहले महंगापुर में तैनात था। वहां उसकी पहचान जेई से हुई थी। परिवार को लेकर गोकुल काफी दिनों से परेशान चल रहा था। इसलिए वह अपना ट्रांसफर पलिया चाह रहा था। उसने इसके लिए कई अफसरों से बात की, लेकिन उसकी मांग पूरी नहीं हुई।

इसके बाद उसने अपने जेई से बात की। जेई ने ट्रांसफर करवाने की जिम्मेदारी ली। लेकिन उसके बदले में उसने जो मांगा वो गोकुल के लिए असहनीय था। जेई ने उसे कहा कि तुम एक रात के लिए अपनी पत्नी को मेरे और मेरे साथियों के लिए भेज दो, उसके बाद तुम्हारा ट्रांसफर करवा देंगे। जिसके बाद गोकुल वापस आ गया। उसने इस बात की शिकायत पुलिस से की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

गोकुल ने शनिवार को पलिया अपने घर में देर शाम खुद पर डीजल छिड़ककर आग लगा ली। परिवार के लोग उसको देर रात उसको लखीमपुर लेकर पहुंचे। जहां से हालत गंभीर होने पर उसे लखनऊ भेज दिया गया। जहां पर सुबह 6 बजे के करीब गोकुल ने दम तोड़ दिया।

आरोपी जेई को सस्पेंड कर दिया गया है।
आरोपी जेई को सस्पेंड कर दिया गया है।

सीओ बोले- अभी केस दर्ज करवाने कोई नहीं आया
मामले में पलिया के सीओ संजय नाथ तिवारी ने कहा कि अभी तक परिवार से कोई केस दर्ज करवाने नहीं आया है। हम लोग भी परिवार के लोगों की तलाश कर रहे हैं। जैसे ही कोई शिकायत करवाने आएगा हम लोग तुरंत कार्रवाई करेंगे।

जयंत चौधरी बोले-दरिंदों पर कठोर कार्रवाई होनी चाहिए

खबरें और भी हैं...