लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर ललितपुर में प्रदर्शन:सपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया धरना प्रदर्शन, केंद्रीय गृह राज्यमंत्री को बर्खास्त करने की मांग की

ललितपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर ललितपुर में प्रदर्शन। - Dainik Bhaskar
लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर ललितपुर में प्रदर्शन।

लखीमपुर खीरी हिंसा के बाद ललितपुर जिले में किसान संगठनों सहित कांग्रेस और समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं में रोष है। सोमवार को सपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन किया। उन्होंने मांग की कि तत्काल केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त कर उनके बेटे को गिरफ्तार किया जाए। हालांकि समाजवादी पार्टी का धरना आधा घंटे में समाप्त हो गया, जबकि किसानों का धरना प्रदर्शन दो घंटे तक चला।

योगी सरकार को बर्खास्त करने की मांग

बता दें कि सोमवार सुबह 11 बजे समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष तिलक यादव के नेतृत्व में शहर के मुख्य स्थल घण्टा घर मैदान में एकत्र होकर धरना प्रदर्शन किया। सपा कार्यकर्ताओं ने योगी सरकार को बर्खास्त करने की मांग की। उन्होंने लखीमपुर खीरी में मारे गए किसानों के परिजनों को दो-दो करोड़ रुपए की आर्थिक मदद दिए जाने की भी मांग की। सपाइयों ने कहा कि केंद्रीय गृह राज्यमंत्री को तत्काल बर्खास्त कर उनके बेटे को गिरफ्तार किया जाए। साथ ही कहा कि अखिलेश यादव को तुरंत रिहा किए जाए। सपाइयों ने अपर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर आधे घंटे में ही धरना प्रदर्शन समाप्त कर दिया।

सयुंक्त किसान मोर्चा ने किया प्रदर्शन

वहीं सयुंक्त किसान मोर्चा के मण्डल अध्यक्ष लाखन सिंह पटेल के नेतृत्व में दो दर्जन से अधिक किसान प्रदर्शन करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे, जहां उन्होंने धरना प्रदर्शन करते हुए लखीमपुर खीरी में किसानों को जीप से कुचल कर मार डालने का आरोप लगाते हुए तत्काल केंद्रीय मंत्री के बेटे को गिरफ्तार किए जाने की मांग की। दो घंटे बाद दोपहर एक बजे किसानों ने अपर जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर धरना प्रदर्शन समाप्त कर दिया।

मंत्री के बेटे को गिरफ्तार करने की मांग की

वहीं साढ़े 11 बजे कांग्रेस कार्यकर्ता जिलाध्यक्ष बलबंत सिंह के नेतृत्व में घंटाघर मैदान में पहुंचे और हाथों में काली पट्टी बांधकर सत्यागृह पर बैठ गए। इस दौरान कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने कहा कि किसानों को मारने वाले मंत्री के बेटे को तत्काल गिरफ्तार किया जाए और कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी को तत्काल रिहा किया जाए। कांग्रेस ने दो घंटे तक धरना प्रदर्शन किया।

खबरें और भी हैं...