ललितपुर में छात्र की मौत बनी पहेली:ताला बंद मकान में फंदे पर लटका मिला 10 साल के बच्चे का शव, शाम 5 बजे हुआ था गायब

ललितपुर2 महीने पहले

ललितपुर जिले में कोतवाली सदर क्षेत्र अंतर्गत मोहल्ला बड़ापुरा में एक 10 वर्षीय बच्चे की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। बच्चे का शव उसके दूसरे घर में फंदे पर लटका मिला, जिसपर बाहर से ताला लगा हुआ था। बच्चा आज शाम 5 बजे ही घर से लापता हो गया था। बंद घर में मिली लाश को लेकर मामला संदिग्ध माना जा रहा है। फिलहाल, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मां चाय पीने के लिए ढूढ़ने निकली तो मिली लाश
जानकारी के मुताबिक, मोहल्ला बड़ापुरा निवासी रामचरन कुशवाहा का 10 वर्षीय पुत्र कक्षा 5वीं का छात्र सोनू कुशवाहा शुक्रवार की शाम 5 बजे घर से निकल गया था। 6 बजे उसकी मां ने चाय बनाई तो बेटे को चाय पीने के लिए घर में बुलाया, लेकिन वह घर में नहीं मिला। मां ने मोहल्ले में ढूंढ़ा, लेकिन उसका वहां भी कोई पता नहीं चला। रात 8 बजे के दरम्यान उसकी मां मोहल्ले में ही बने दूसरे निर्माणाधीन मकान पर पहुंची व दरवाजे का ताला खोलकर अंदर पहुंची तो उसका बेटा फांसी के फंदे पर रस्सी से लटका मिला। पास में ही कुर्सी रखी हुई थी।

मृतक सोनू।
मृतक सोनू।

बेटे को फांसी के फंदे पर लटका देख, उसके होश उड़ गए। उसने इसकी सूचना पुलिस व परिजनों को दी। सूचना मिलने पर क्षेत्राधिकारी सदर फूलचन्द्र, शहर कोतवाल विनोद कुमार मिश्रा, सदर चौकी इंचार्ज सुरेन्द्र कुमार मौके पर पहुंचे व छानबीन में जुट गए।

क्षेत्राधिकारी ने कहा- मामले की जांच की जा रही है
आशंका जताई जा रही है कि सोनू पड़ोसी चाचा के निर्माणाधीन मकान से अपनी छत से जीने के जरिए अपने कमरे में पहुंचा होगा। पिता रामचरन ने बताया कि सोनू तीन भाई, एक बहन में सबसे छोटा था और वह कक्षा 5वीं में पढ़ता था। उसके साथ घटना कैसे हुई यह उसे नहीं पता। क्षेत्राधिकारी सदर फूलचन्द्र ने बताया कि 10 साल के छात्र का शव फांसी के फंदे पर लटका मिला है, मामले की जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत का कारण पता चलेगा।

खबरें और भी हैं...