ब्लैकमेलर गैंग का शिकार हुआ रिटायर्ड अधिकारी:व्हाट्सएप कॉल पर अश्लील वीडियो बनाकर 22 लाख रुपए ऐंठ लिए, साइबर सेल गिरोह की तलाश में जुटी

लखनऊ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लखनऊ में ऑन कॉल अश्लील वीडियो बनाकर वसूली करने वाले गिरोह पर पुलिस का शिकंजा नही कस पा रहा है। अब इसका शिकार एक रिटायर्ड अधिकारी बन गया। गिरोह ने उससे 22 लाख रुपये ऐंठ लिए। और रुपयों की डिमांड पर पीड़ित गोमतीनगर थाने पहुँचा। रिपोर्ट दर्ज कर साइबर सेल गैंग की तलाश में जुटी है।

गोमतीनगर निवासी रिटायर्ड अफसर के मुताबिक 30 अगस्त को एक महिला ने देर रात उन्हें फोन किया। कुछ सेकेंड बात हुई। इसके थोड़ी देर बाद किसी ने अश्लील वीडियो मोबाइल पर भेजा। गलती से वीडियो खोल दिया। अगले दिन एक व्यक्ति ने फोन कर कहा कि यूट्यूब का अधिकारी संजय सिंह बोल रहा हैं। कथित संजय ने कहा कि आपके मोबाइल पर एक अश्लील वीडियो है। उसे यूट्यूब पर अपलोड किया जा रहा है। इसे रोकना चाहते हो तो दो लाख रुपये दो, नहीं तो वीडियो वायरल कर दिया जाएगा।

बेज्जती के डर से बताये हुए खाते में डालते गए रुपये

बुजुर्ग ने बताया कि खौफ में आकर उन्होंने दो लाख रुपये बताए हुए बैंक खाते में डाल दिया। इसके बाद फिर अलग- अलग नंबरों से फोन कर लोग धमकाने लगे और रुपयों की मांग की। गिरोह के सदस्य अबतक 22 लाख रुपये ऐंठ चुके हैं। वृद्ध ने बताया कि मामले की जानकारी DCP को दी। इसके बाद उनके आदेश पर आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ। गोमतीनगर इंस्पेक्टर केके तिवारी ने बताया कि मोबाइल नंबर के आधार पर आरोपितों की तलाश की जा रही है।

पुलिसवाले बनकर खाते में मंगवाए 20 लाख रुपए

पीड़ित ने बताया कि दो लाख रुपये संजय सिंह के लेने के बाद उनके पास नितिन जैन नाम के व्यक्ति ने फोन किया। उसने बताया कि वह साइबर क्राइम सेल से पुलिस अधिकारी बोल रहे हैं। एक महिला और कुछ लोग एक वीडियो दिखाकर उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने आए हैं। इसके बाद लखवीर सिंह नाम के व्यक्ति ने बात की कि वह रिपोर्ट लगवाकर मुकदमा खारिज करवाने के बाद वीडियो भी डिलीट करा देंगे। उक्त लोगों ने 20 लाख रुपये की मांग की। कई किस्तों में उनके बताए गए खातों में रुपये ट्रांसफर किए। इसके दो दिन बाद फिर लोग फोन करने लगे और रुपयों की मांग शुरू कर दी।

खबरें और भी हैं...