पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Abid Used To Entrap Hindu Girls In Love Trap By Becoming A Crime Branch Inspector; He Used To Forcibly Convert Religion After Marriage, Police Arrested. Love Jihad In Lucknow

लखनऊ में लव जिहाद का मामला:क्राइम ब्रांच का इंस्पेक्टर बनकर हिंदू लड़कियों को प्रेम जाल में फंसाता था आबिद; शादी के बाद जबरन धर्म परिवर्तन करा देता था, पुलिस ने किया गिरफ्तार

लखनऊ19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

राजधानी लखनऊ में लव जिहाद का बड़ा मामला सामने आया है। यहां पुलिस ने एक आबिद हवारी नाम के एक युवक को गिरफ्तार किया है जो हिंदू लड़कियों को केवल धर्म परिवर्तन के लिए निशाना बनाता था। आजमगढ़ जिले का रहने वाला यह आरोपी आविद हवारी खुद को क्राइम ब्रांच में इंस्पेक्टर आदित्य बताता था। लखनऊ के अंसल सिटी में मंहगे फ्लैट में रहता था। अबतक वह करीब 15 लड़कियों को प्रेम जाल में फसाकर उनका धर्म परिवर्तन करवा चुका है। जांच में पता चला कि आबिद के 7 बच्चे भी हैं।

ब्लैकमेल कर किया निकाह, कराया धर्म परिवर्तन
आबिद ने खुद को क्राइम ब्रांच का इंस्पेक्टर और अपना नाम आदित्य सिंह बताता था। इंदिरानगर में रहने वाली एक बुटीक संचालिका ने आरोप लगाया है कि आबिद से किराए का मकान लेने के दौरान मुलाकात हुई थी। दोनों की कई बार मुलाकात हुई और आबिद उर्फ आदित्य ने उसे अपने प्यार के जाल में फंसा लिया। इसके बाद उसका अश्लील वीडियो बनाकर वायरल करने की धमकी दे जबरन धर्म परिर्वतन कराकर निकाह कर लिया। जब महिला को हकीकत पता चली कि वह कई अन्य महिलाओं से शादी कर चुका है और सात बच्चों का बाप है तो पीड़िता ने इंदिरानगर कोतवाली में रिर्पोट दर्ज कराई। जिसके बाद रविवार दोपहर पुलिस ने आरोपी आबिद हावरी उर्फ आदित्य को इंदिरा नगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पीड़िता का आरोप है कि आबिद उसे ब्लैकमेल कर उससे करीब 20 लाख रुपये और ज्वैलरी ऐंठ चुका है।

वर्दी में फोटो, घर में फर्जी फाइल और असलहों का जखीरा
इंस्पेक्टर इंदिरानगर अजय त्रिपाठी ने बताया कि आरोपी आबिद हावरी 2015 में महिला के घर पर किराए पर कमरा लेने गया था। आबिद ने अपना नाम आदित्य प्रताप सिंह बताया था। तभी उसका नंबर ले लिया। उसके बाद बातचीत कर उसे प्यार जाल में फंसा लिया। आबिद मूल रूप से आजमगढ़ के बखरा फूलपुर का रहने वाला है। यहां वह अंसल गोल्फ सिटी क्रिस्टल पैराडाइज ई ब्लाक फ्लैट नंबर 802 में रहता था। अंसल वाले घर पर आफिस बना रखा था। वहां बंदूक और पिस्टल भी रखे था। कई फाइलों में पुलिस से संबंधित फर्जी दस्तावेज भी रखे था। इस कारण उस पर विश्वास भी हो गया था।

नाम बदलकर आधार व वोटर आईडी भी बनवा दी
कई बार महिला को अंसल गोल्फ सिटी स्थित मकान में भी ले गया। वहां पर उसके साथ रेप किया। इसके अलावा महिला के घर भी जाता था। आबिद ने प्रेम प्रसंग के दौरान महिला का अश्लील वीडियो भी बना लिया। इसके बाद 12 मई 2016 को जबरन डरा धमकाकर महिला के घर में ही उससे निकाह किया। पीड़िता ने बताया कि शादी के बाद आबिद उसे अपने घर ले गया। वहां पर उसका नाम बदलकर आयशा के नाम से वोटर आईडी और आधार कार्ड बनवाया। आए दिन प्रताड़ित करता था। इस दौरान पता चला कि कई शादियां पहले वह और कर चुका है। जिनसे उसके सात बच्चे हैं।

गाड़ी में पुलिस का लोगो लगाकर घूमता था
पीड़िता ने बताया कि अपनी गाड़ी में पुलिस का लोगो लगाकर आबिद उसके घर आता था। वर्दी कभी नहीं पहनकर आया वह वर्दी में फोटो दिखाता था। कहता था कि क्राइम ब्रांच वाले वर्दी में नहीं रहते हैं। उसने अपनी पोस्टिंग बाराबंकी क्राइम ब्रांच, हैदरगढ़, सुलतानपुर में बताई। पीड़िता ने बताया कि आबिद अपने गांव से पंचायत चुनाव भी लड़ चुका है।

एक और युवती से की थी शादी
​​​​​​​
पीड़िता ने बताया कि बीते साल आबिद ने अर्जुनगंज के सरसवां में रहने वाली एक युवती को भी अपने प्रेम जाल में फंसा लिया था। उससे भी उसे भी अपना नाम इंस्पेक्टर आदित्य प्रताप सिंह बताया था। उसके साथ भी उसने एक बड़े मैरिज लान में शादी किया था। पीड़िता ने बताया कि शनिवार को उसने इंदिरानगर कोतवाली में आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इंस्पेक्टर इंदिरानगर अजय त्रिपाठी ने बताया कि रविवार दोपहर आरोपित आबिद को क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया गया। उसके पास से मिले दस्तावेजों की जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं...