पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • ADG Prashant Kumar Said Police Will Not Be Soft Against Mafia Even In New Year, Will Also Play Full Responsibility In Vaccination Of Epidemic

UP पुलिस का रिपोर्ट कार्ड:ADG प्रशांत कुमार ने कहा - नए साल में भी माफियाओं के खिलाफ नरमी नहीं, महामारी के वैक्सीनेशन में भी जिम्मदेारी निभाएगी UP पुलिस

लखनऊ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूपी पुलिस के एडीजी प्रशांत कुमार ने गुरुवार को मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि अगले साल भी पुलिस माफियाओं के खिलाफ कठोर कार्रवाई जारी रखेगी। - Dainik Bhaskar
यूपी पुलिस के एडीजी प्रशांत कुमार ने गुरुवार को मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि अगले साल भी पुलिस माफियाओं के खिलाफ कठोर कार्रवाई जारी रखेगी।
  • संगठित अपराध पर भी एसटीएफ और जिला पुलिस ने किया सहरानीय कार्य, अपराध में आई कमी

उत्तर प्रदेश पुलिस ने कोरोना महामारी के बीच काफी सराहनीय कार्य किया। पिछले एक साल के दौरान यूपी में संगठित अपराधों में भी कमी आई है। यह दावा अपर पुलिस महानिदेशक कानून-व्यवस्था प्रशान्त कुमार ने गुरुवार को किया। उन्होंने कहा कि यह साल पुलिस के लिए चुनौती पूर्ण रहा। पुलिस ने महामारी के बीच काफी सराहनीय कार्य किया। हालांकि एडीजी ने कहा कि आने वाले वर्ष में माफियाओं के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी। कोविड वैक्सीन के वैक्सीनेशन के लिए सुरक्षा व्यवस्था का इंतजाम किया जाएगा। स्थानीय निकाय चुनाव की तैयारी की जाएगी।

एडीजी ला एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान यह बातें कही। वैश्विक कोरोना महामारी को लेकर काफ़ी चुनौती पूर्ण रहा। 24 घंटे पुलिस जवानों ने निष्ठा पूर्ण कार्य किया। संक्रमण पर काफ़ी हद तक रोक लगाने का काम किया। इस दौरान यूपी 112 और सोशल मीडिया के द्वारा अभूतपूर्व कार्य किया गया। अपराध में आई कमी और बड़े वहीं नए साल पर कहीं भी भीड़भाड़ नहीं होने दी जाएगी हुड़दंग करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा पेट्रोलिंग करवाई जाएगी।

सोशल मीडिया पर एक लाख ट्वीट से मिली शिकायत
एडीजी एलओ प्रशांत कुमार ने कोरोना महामारी से जुड़े करीब एक लाख से अधिक पुलिस को ट्वीट प्राप्त हुए। अब तक 12 हज़ार से अधिक संक्रमित हुए। पुलिस ने इस दौरान लाखों लोगों को भोजन तक कराया और कई बुजुर्गों को उनके बच्चों तक पहुंचाया। कोरोना महामारी के दौरान यूपी पुलिस के जवानों और अधिकारियों तक ने अपना घर छोड़कर जनता की सेवा में समय दिया। यह पुलिस के लिए बड़ी उपलब्धि और सबका सराहनीय कार्य किया।

एसटीएफ़ ने भी संगठित अपराधों को रोका
एडीजी एलओ ने ने दावा करते हुए कहा कि, डकैती लूट हत्या बलात्कार जैसी घटनाओं में कमी आई है। ज़िला पुलिस और एसटीएफ़ ने अपराधियों के खिलाफ अच्छा काम किया। 199 से अधिक अपराधियों के खिलाफ रासुका की कार्यावाही की गई हैं। महिलाओं और बालिकाओं की सुरक्षा के लिया मिशन शक्ति क्क आयोजन किया गया। एंटी रोमियो स्क्वाड ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

कोर्ट में मुकदमों में भी सजा दिलाने में आगे रही पुलिस
एडीजी एलओ ने बताया कि, लखनऊ कमिश्नरी में पोस्को एक्ट में मृत्यु दंड सहित कई मामले में न्यायालय ने सज़ा सुनाई है। लखनऊ में डिफेंस एक्सपो का बड़ा कार्यक्रम हुआ। ढाई से तीन लाख लोगों ने इसमें शिरकत की थी। राम जन्म भूमि कार्यक्रम का भी सकुशल निपटाया गया। सभी धर्मों का सफल आयोजन कराया गया।