BJP प्रदेश अध्यक्ष से मिले ओम प्रकाश राजभर:स्वतंत्र देव के साथ राजभर ने चाय पर चर्चा की, बोले- राजनीति में कुछ भी संभव है; लोकसभा चुनाव से पहले BJP का साथ छोड़ा था

लखनऊएक वर्ष पहले

उत्तर प्रदेश की राजनीति में बड़े बदलाव की सुगबुगाहट हो रही है। भाजपा सरकार पर हमेशा मुखर होकर हमला करने वाले 'सुहेल देव भारतीय समाज पार्टी' के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर मंगलवार की सुबह अचानक BJP प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के आवास पर पहुंच गए। दोनों ने करीब एक घंटे तक चाय पर चर्चा की। BJP नेता दयाशंकर सिंह भी इस दौरान रहे। मुलाकात के बाद ओम प्रकाश राजभर के सुर बदले नजर आए। मीडिया से बातचीत में राजभर ने कहा कि राजनीति में कुछ भी संभव है।

जब माया-अखिलेश मिल सकते हैं तो हम क्यों नहीं
BJP प्रदेश अध्यक्ष से मुलाकात के बाद राजभर ने कहा कि ये शिष्टाचार मुलाकात थी। हालांकि, वह यहीं नहीं रुके। आगे उन्होंने कहा, 'राजनीति में कौन-कौन क्या कर रहा है? इसकी थाह समय-समय पर लेते रहना चाहिए। दो बड़े नेता व्यक्तिगत मुलाकात भी कर सकते हैं। जब ममता बनर्जी और सोनिया गांधी मिल सकती हैं या मायावती और अखिलेश मिल सकते हैं तो राजनीति में कुछ भी संभव है।
ओम प्रकाश राजभर ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष से स्वतंत्र देव सिंह ने मिलने के लिए सोमवार देर रात को ही समय मांगा था। बताया जाता है कि मुलाकात के दौरान दोनों के बीच यूपी चुनाव को लेकर चर्चा हुई। हालांकि, राजभर ने ये भी कहा की वह जल्द ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के साथ भी बैठकर चाय पीयेंगे। इससे पहले राजभर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से भी मिल चुके हैं।

लोकसभा चुनाव से पहले NDA से अलग हो गए थे
ओम प्रकाश राजभर ने 2017 विधानसभा चुनाव BJP के साथ मिलकर लड़ा था। इसके बाद उन्हें योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया गया था। हालांकि, बाद में BJP और राजभर की पार्टी में मतभेद शुरू हो गया था। 2019 लोकसभा चुनाव आते-आते ओम प्रकाश राजभर मुखर होकर BJP सरकार के खिलाफ बोलने लगे थे। 9 फरवरी 2019 को आखिरकार ओम प्रकाश राजभर ने NDA का साथ छोड़ने का ऐलान कर दिया था। इसके बाद वह लोकसभा चुनाव अकेले लड़े थे। हालांकि इसमें एक भी सीट पर वो जीत नहीं पाए थे। अभी वह यूपी में होने वाले चुनाव के लिए भागीदारी मोर्चा तैयार कर रहे हैं। इसके लिए ओवैसी की पार्टी AIMIM के साथ गठबंधन भी कर चुके हैं।

खबरें और भी हैं...