AKTU कुलपति की संस्थानों के निदेशकों के साथ बैठक:निजी कॉलेजों में 50 फीसदी तक मैनेजमेंट कोटा करने की उठी मांग, ये कोर्स  शुरू करने पर जोर

लखनऊ5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
AKTU कुलपति की एफिलिएटेड संस्थान - Dainik Bhaskar
AKTU कुलपति की एफिलिएटेड संस्थान

AKTU यानी डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. पीके मिश्रा ने शुक्रवार को यूनिवर्सिटी से सम्बद्ध निजी संस्थानों के निदेशकों के साथ बैठक की। इस दौरान संस्थानों के निदेशकों ने प्रमुखता से निजी कॉलेजों में मैनेजमेंट कोटा बढ़ाकर 50 प्रतिशत कर दिए जाने की बात कही। साथ ही इंजीनियरिंग के साथ ही फिल्म व फैशन से जुड़े पाठ्यक्रमों को भी जल्द ही शुरु करने का सुझाव दिया। बैठक का मकसद एफिलिएटेड प्राइवेट संस्थानों के चैलेंजेज से रुबरु होकर यूनिवर्सिटी के स्तर से इनका हल निकालने के साथ ही सुझाव प्राप्त करना रहा।

निजी संस्थानों की यह रही दलील

AKTU कुलपति प्रो.पीके मिश्रा के साथ विभिन्न निजी संस्थानों के निदेशकों की बैठक
AKTU कुलपति प्रो.पीके मिश्रा के साथ विभिन्न निजी संस्थानों के निदेशकों की बैठक

निदेशकों का तर्क था कि वर्तमान में प्रवेश JEE के माध्यम से हो रहे हैं। सीटें काफी ज्यादा खाली रह जा रही हैं। ऐसे में सीधे प्रवेश के लिए मैनेजमेंट कोटे को 50 प्रतिशत कर दिया जाए तो बेहतर होगा। यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. पीके मिश्रा ने कहा कि सभी बिंदुओं पर विचार कर, शासन के समक्ष रखा जाएगा।

यह भी सुझाव आएं -

यह सुझाव भी दिया गया कि संस्थानों में 20 प्रतिशत ऑल इंडिया कोटा के तहत प्रदेश के बाहर के विद्यार्थी भी प्रवेश लेते हैं। इन विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति का लाभ नहीं मिल पाता है। ऐसे विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति का लाभ दिलवाने के लिए विवि को नेशनल स्कॉलरशिप फॉर्म भरवाए जाने की पहल करनी चाहिए। साथ ही फार्मेसी में शोध को बढ़ावा देने के लिए इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों की तरह ही प्रमोशन स्कीम शुरू किए जाने का सुझाव भी आया। इसके अलावा कुछ निदेशकों ने फिल्म और फैशन जैसे पाठ्यक्रमों को शुरू करने के लिए पहल करने को कहा। इसके अलावा निदेशकों ने बताया कि वर्तमान में विभिन्न प्रकार के शुल्क भुगतानों के लिये यूनिवर्सिटी के पोर्टल पर पेमेंट के मात्र दो ऑप्शन हैं जिसमें चालान और ऑनलाइन बैंकिंग है। इसमें कार्ड और यूपीए पेमेंट के ऑप्शन भी जोड़े जाने चाहिए।

IET ने कंपनियों से किए MOU

IET लखनऊ
IET लखनऊ

वही लखनऊ के IET यानी इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी संस्थान द्वारा कॉलेब्रेटर्स के साथ शुक्रवार को एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में संस्थान के निदेशक प्रो. विनीत कंसल के अलावा प्रो. अरुण तिवारी, प्रभारी प्लेसमेंट, डॉ. अजय प्रकाश, रेडक्यूब डिजिटल इंडिया प्रा. लिमिटेड, डॉ. एचएन सिंह- वीएचपीएस एंटरप्राइज, पंकज मुथे, अकादमिक कार्यक्रम प्रबंधक- क्विक टेक प्रा. लिमिटेड, डॉ. आलोक यादव, यंत्र बाइट्स फाउंडेशन और सुधांशु, परफेक्टिस एडुवेंचर प्राइवेट लिमिटेड ने अपने इंटर्नशिप कार्यक्रमों के माध्यम से विशेष रूप से IET स्टूडेंट्स के लिए रोजगार क्षमता बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करने की अपनी योजनाओं पर चर्चा की। संस्थान ने इन कम्पनियों के साथ MOU पर हस्ताक्षर किए। निदेशक IET ने कहा कि क्वालिटी व क्वांटिटी दोनों पर ही संस्थान फोकस कर रहा है।

यहां पढ़ें : यूपी की आज की बड़ी खबरें LIVE

खबरें और भी हैं...