• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • AKTU Earlier, The University Was Accused Of Suppressing The Case, After The Trouble, The University Administration Swung Into Action, Action On Proctor Vineet Verma, Who Copied The Online Examination

AKTU की ऑनलाइन एग्जाम में खेल करने वाला शिक्षक बर्खास्त:फजीहत के बाद हरकत में आया यूनिवर्सिटी प्रशासन, नकल कराने वाले SRGI के शिक्षक बर्खास्त; पहले मामले को दबाने का किया गया था प्रयास

लखनऊ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
AKTU  की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
AKTU की फाइल फोटो।

AKTU (डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी) के ऑनलाइन एग्जाम में खेल करने वाले टीचर पर आखिरकार यूनिवर्सिटी ने एक्शन लिया है। मामले में जमकर फजीहत होने के बाद यूनिवर्सिटी प्रशासन हरकत में आया। आरोप था कि सेमेस्टर की ऑनलाइन परीक्षाओं में रुपए लेकर प्रॉक्टर नकल करने की छूट दे रहे थे। मामला संज्ञान में आने के बाद यूनिवर्सिटी के कुछ जिम्मेदारों द्वारा प्रकरण को दबाएं जाने का भी प्रयास हुआ, मगर मामला तूल पकड़ने पर यूनिवर्सिटी प्रशासन एक्शन मोड़ में आया। इसके बाद झांसी के एसआर ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन (SRGI) के शिक्षक विनीत वर्मा को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है।

ऑनलाइन परीक्षा में नकल कराने वाले शिक्षक बर्खास्त
गुरुवार को एकेटीयू प्रशासन ने संबंधित शिक्षक पर कार्रवाई की जानकारी साझा की। एकेटीयू के प्रवक्ता आशीष मिश्र ने बताया कि अनुचित आचरण के लिए परीक्षा के दौरान प्रॉक्टर के पद का दायित्व का निर्वाह कर रहे शिक्षक विनीत वर्मा को तत्काल प्रभाव से सेवा से विरत कर बर्खास्त कर दिया गया है। बता दें, कोरोना संक्रमण के कारण अबकी पहली बार AKTU ऑनलाइन माध्यम से एग्जाम करा रहा है। यूनिवर्सिटी के करीब 2.5 लाख स्टूडेंट्स इसी माध्यम से सेमेस्टर एग्जाम दे रहे है। झांसी के शिक्षक पर इन्ही परीक्षाओं के दौरान नकल कराने के आरोप लगे थे। उसी पर यूनिवर्सिटी ने एक्शन लिया है।

छूटे स्टूडेंट्स को परीक्षा का मिलेगा मौका
डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक यूनिवर्सिटी ने स्टूडेंट्स के लिए राहत भरा फैसला लिया है। कोरोना महामारी के चलते शैक्षिक सत्र 2020-21 की ऑनलाइन मोड में आयोजित परीक्षाओं से किसी कारण से वंचित रह गए स्टूडेंट्स को परीक्षा में शामिल होने का एक और मौका दिया जाएगा। प्रवक्ता आशीष मिश्र ने बताया कि कोरोना महामारी व स्वास्थ कारण, परीक्षा फार्म न भर पाने वाले स्टूडेंट, संबंधित संस्थान की ट्यूशन फीस जमा न होने के कारण आदि के कारण से परीक्षा न दे पाने वाले स्टूडेंट परीक्षा में शामिल होने का मौका दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...