AKTU का आज 21वां स्थापना वर्ष:कोरोना के चलते वर्चुअल होंगे सभी कार्यक्रम, AICTE चेयरमैन सहस्रबुद्धे होंगे चीफ गेस्ट

लखनऊ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वर्तमान में यूनिवर्सिटी से 756 संस्थान एफिलिएट हैं, वहीं स्टूडेंट्स की संख्या लगभग 2.5 लाख है। - Dainik Bhaskar
वर्तमान में यूनिवर्सिटी से 756 संस्थान एफिलिएट हैं, वहीं स्टूडेंट्स की संख्या लगभग 2.5 लाख है।

लखनऊ स्थित डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक यूनिवर्सिटी सोमवार यानी आज अपना 21वां स्थापना वर्ष मना रहा है। कोरोना संक्रमण के कारण इस बार ऑनलाइन माध्यम से स्थापना कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इस अवसर पर AICTE यानी अखिल भारतीय शिक्षा परिषद के चेयरमेन प्रो. अनिल डी सहस्रबुद्धे चीफ गेस्ट में रुप मे शामिल होंगे। इसके अलावा प्राविधिक शिक्षा सचिव अलोक कुमार भी विशिष्ट अतिथि के रुप में कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।

एकेटीयू के मीडिया प्रभारी आशीष मिश्र के मुताबिक यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक की अध्यक्षता में ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। स्थापना दिवस के अवसर पर यूनिवर्सिटी से एफिलिएटेड इंस्टीट्यूट्स व संस्थानों में पढ़ रहे ऐसे स्टूडेंट्स जिनके अभिभावकों का कोरोना महामारी के कारण निधन हुआ है। उनको चेक के जरिए आर्थिक सहायता का वितरण होगा।

एक नजर AKTU के सफर पर

26 जुलाई 2000: प्रो. दुर्ग सिंह चौहान ने टेक्निकल यूनिवर्सिटी में वीसी का पदभार ग्रहण किया।

25 अगस्त 2000: यूपी में प्रदेश भर के समस्त इंजीनियरिंग, फार्मेसी, मैनेजमेंट संस्थान यूनिवर्सिटी से एफिलिएट हो गए। इसी साल अक्टूबर तक सभी का सिलेबस भी फाइनल होकर कोर्स लागू हो गए।

मई 2001: तत्कालीन राज्यपाल व यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति विष्णुकांत शास्त्री और मुख्यमंत्री रहे राजनाथ सिंह ने बाराबंकी में यूपीटीयू के एक भव्य कार्यक्रम में लगभग 360 एकड़ जमीन देने की घोषणा की।

11 अप्रैल 2004: पहला दीक्षांत सम्पन्न हुआ, जिसमें यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति व यूपी के राज्यपाल विष्णुकांत शास्त्री व पद्मश्री प्रो प्रीतम सिंह शामिल रहे।

अक्टूबर 2007: विश्वविद्यालय की पहली बिल्डिंग नोएडा कैम्पस का इनॉग्रेशन हुआ।

2009: यूनिवर्सिटी कन्वोकेशन में देश के महान वैज्ञानिक और पूर्व राष्ट्रपति डॉ एपीजे अब्दुल कलाम चीफ गेस्ट के रूप में शामिल हुए।

9 सितंबर 2012: प्रो राकेश कुमार खांडल ने कुलपति के रूप में पदभार ग्रहण किया।

2014: दीक्षांत समारोह में प्रमुख टेलीकॉम एडवाइजर सैम पित्रोदा चीफ गेस्ट के रुप मे शामिल हुए।

4 अगस्त 2015: प्रो. विनय कुमार पाठक विश्वविद्यालय के कुलपति बने।

30 मार्च 2016: विश्वविद्यालय में प्रारंभ से काम कर रहे 72 कार्मिको को नियमित किया गया।

21 जून 2017: पीएम नरेन्द्र मोदी ने एकेटीयू के भवन का लोकार्पण किया।

अगस्त 2017: AKTU ने दो नए एकेडमिक कैम्पस CAS व डिजाइन इंस्टिट्यूट नोएडा बनाए।

2004: कुल 18 कॉन्वोकेशन आयोजित हुए है, जिसमे करीब 10 लाख से भी अधिक स्टूडेंट्स को एमबीए, एमसीए, बीटेक, बी.फार्मा व बी.आर्क डिग्री अवार्ड की गई है।

वर्तमान में यूनिवर्सिटी से 756 संस्थान एफिलिएट हैं, वहीं स्टूडेंट्स की संख्या लगभग 2.5 लाख है।

खबरें और भी हैं...