एकेडमिक के साथ स्टूडेंट्स करें इंडस्ट्री पर भी फोकस:AKTU पहुंचे मंत्री जितिन प्रसाद, NIRF की तर्ज पर प्रदेश में जल्द होगी SIRF रैंकिंग फ्रेमवर्क की शुरुआत

लखनऊएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार को AKTU के प्राविधिक शिक्षा का उन्नयन' कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे मंत्री जितिन प्रसाद - Dainik Bhaskar
मंगलवार को AKTU के प्राविधिक शिक्षा का उन्नयन' कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे मंत्री जितिन प्रसाद

स्टूडेंट्स सिर्फ क्लास टीचिंग तक ही सीमित न रहे, उनके पास नवाचार और शोध के असीम अवसर हैं। खुद को डिग्री लेने तक ही सीमित नहीं रहना चाहिए। सरकार का उद्देश्य भी स्टूडेंट्स को विश्वस्तरीय अवसर प्रदान कर आत्मनिर्भर बनाना है। ये बातें यूपी के प्राविधिक शिक्षा मंत्री जितिन प्रसाद ने डॉ एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक यूनिवर्सिटी में मंगलवार को आयोजित 'प्राविधिक शिक्षा का उन्नयन' कार्यक्रम के दौरान व्यक्त किए।

सरकार जल्द स्टूडेंट्स को देगी टेबलेट,NIRF की तर्ज पर यूपी में SIRF रैंकिंग होगी जारी

मेधावी स्टूडेंट्स को सम्मानित करते मंत्री जितिन प्रसाद
मेधावी स्टूडेंट्स को सम्मानित करते मंत्री जितिन प्रसाद

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जल्द ही स्टूडेंट्स को टैबलेट दिए जाएंगे। इंडस्ट्री और एकेडमिया कनेक्ट को बढ़ाया जायेगा। प्राविधिक शिक्षा सचिव आलोक कुमार ने कहा कि यूनिवर्सिटी में इन्क्यूबेशन हब की स्थापना होगी। प्राविधिक शिक्षा में गुणवत्ता सुधार के लिए एसआईआरएफ रैंकिंग फ्रेमवर्क की शुरुआत की जाएगी। इस रैंकिंग फ्रेमवर्क में सभी संबद्ध संस्थानों को शामिल होना होगा। इंडस्ट्री और कार्पोरेट मेंटरशिप के लिए विभाग काम कर रहा।

शासन ने इन्क्यूबेशन सेंटर्स की स्थापना के लिए स्वीकृत किए 22.64 करोड़

सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज की कार्यशाला का निरीक्षण करते प्राविधिक शिक्षा मंत्री
सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज की कार्यशाला का निरीक्षण करते प्राविधिक शिक्षा मंत्री

प्रदेश के शासकीय व अनुदानित संस्थानों में इन्क्यूबेशन सेंटर्स की स्थापना के लिए 22.64 करोड़ की योजना को शासन द्वारा मंजूरी प्रदान की गयी है। AKTU कुलपति प्रो.विनीत कंसल ने यूनिवर्सिटी से जुड़ी सुविधाओं के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। इस मौके पर कुलसचिव नंद लाल सिंह, वित्त अधिकारी जीपी सिंह, यूपीआईडी, नोएडा के निदेशक प्रो वीरेंद्र पाठक, एफओएपी की डीन प्रो वंदना सहगल समेत बड़ी संख्या में लोग शामिल रहे।

इन संस्थानों का हुआ सम्मान

नेशनल इंस्टीट्यूटशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) में स्थान पाने वाले विश्वविद्यालय के 06 संबद्ध संस्थानों को मंत्री जितिन प्रसाद ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इनमें नोएडा इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी गौतमबुद्ध नगर, नोएडा इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नोलाजी फार्मेसी गौतमबुद्ध नगर, KIET यानी केआइइटी गाजियाबाद, जीएल बजाज इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलाजी एंड मैनेजमेंट गौतमबुद्ध नगर, एबीईएस इंजीनियरिंग कालेज गाजियाबाद एवं जेएसएस एकेडेमी आफ टेक्निकल एजुकेशन नोएडा हैं।

इन स्टूडेंट्स को मिली आर्थिक मदद

कार्यक्रम में कोरोना महामारी के कारण अपने अभिभावकों को खोने वाले 11 स्टूडेंट्स को सांकेतिक रूप से एक-एक लाख की चेक भेंट की। ऐसे 467 स्टूडेंट्स को एक लाख की सहायता धनराशि दी जाएगी।महामारी के कारण मरने वाले तीन शिक्षकों के परिवारीजनों को भी पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता के रूप में चेक भेंट की गई। ऐसे कुल 18 शिक्षकों के परिवारीजनों को पांच-पांच लाख की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

यूपीएसईई -2019 टापर छात्राओं को मिले लैपटॉप

मंत्री ने उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा-2019 की टापर 5 छात्राओं व 5 SC/ST टापर टॉपर्स स्टूडेंट्स को भी सांकेतिक रूप से लैपटाॅप दिए गए। वहीं, ऐसे 100 टापर छात्राओं एवं 100 SC/ST स्टूडेंट्स को लेपटाॅप दिए जाएंगे। उन्होंने रिसर्च रिकग्निशन अवार्ड 2021 पोर्टल, केप्टेक 2021 पोर्टल व NEP यानी राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 व एकेडमिक ऑटोनोमी पर एफडीपी पोर्टल का भी शुभारंभ किया। मंत्री ने सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज द्वारा डाॅ पीयूष जायसवाल माइक्रो एण्ड नैनो करेक्टराइजेशन फैसिलिटी केन्द्र का नामकरण एवं लोकार्पण किया गया। साथ ही रोबोटिक्स लैब का भी लोकार्पण किया गया। उन्होंने सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज स्थित प्रयोगशालाओं का निरीक्षण किया गया। इस दौरान मंत्री ने स्टूडेंट्स से सीधे संवाद भी किया।

खबरें और भी हैं...