• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • AKTU Online Semester Exam Started For The First Time In AKTU, More Than Two Lakh Students Will Sit At Home Away From The Center, This Time The Exam

इंजीनियरिंग के एग्जाम में नया प्रयोग:एकेटीयू में पहली बार शुरु हुए ऑनलाइन सेमेस्टर एग्जाम,दो लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स सेंटर से दूर घर बैठकर इस बार दे रहे एग्जाम

लखनऊ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार से AKTU में ऑनलाइन सेमेस्टर एग्जाम की शुरुआत हुई।20 जुलाई से लास्ट सेमेस्टर एग्जाम शुरु हुई वही 28 जुलाई से बाकी सेमेस्टर के एग्जाम ऑनलाइन माध्यम से होंगे - Dainik Bhaskar
मंगलवार से AKTU में ऑनलाइन सेमेस्टर एग्जाम की शुरुआत हुई।20 जुलाई से लास्ट सेमेस्टर एग्जाम शुरु हुई वही 28 जुलाई से बाकी सेमेस्टर के एग्जाम ऑनलाइन माध्यम से होंगे

एकेटीयू यानी डॉ एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय में मंगलवार से पहली बार ऑनलाइन सेमेस्टर एग्जाम की शुरुआत हुई।आनलाइन एग्जाम के लिए पहले से ही यूनिवर्सिटी ने दिशा निर्देश जारी किए थे।साथ ही यूनिवर्सिटी प्रशासन का दावा था कि समय से सभी स्टूडेंट्स को मॉक टेस्ट के जरिए पैटर्न से अवगत करा दिया गया था।इसके अलावा इंटरनेट समेत अन्य व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने का फायदा भी देखने को मिला,कही कोई बड़ी समस्या की खबर अभी तक सामने नही आई है।एकेटीयू में फाइनल सेमेस्टर एग्जाम आज यानी 20 जुलाई से शुरु हुए वही अन्य सेमेस्टर एग्जाम 28 जुलाई से शुरु होंगे।

ऑनलाइन माध्यम से एग्जाम देते AKTU के स्टूडेंट्स
ऑनलाइन माध्यम से एग्जाम देते AKTU के स्टूडेंट्स

एग्जाम को लेकर एकेटीयू ने जारी की थी स्टूडेंट्स एडवाइजरी -

एकेटीय के एग्जामिनेशन कंट्रोलर प्रो अनुराग त्रिपाठी के मुताबिक आज ऑनलाइन एग्जाम का पहला दिन रहा।मंगलवार को फाइनल सेमेस्टर के स्टूडेंटस के पेपर रहे। ऑनलाइन एग्जाम को लेकर पहले से ही यूनिवर्सिटी ने दिशा निर्देश जारी कर दिए थे।अपनी तरफ से सभी तैयारी भी समय रहते पूरी कर ली गई थी।स्टूडेंट्स को मॉक टेस्ट के जरिए एग्जाम के तौर तरीकों से रुबरु भी करा दिया गया था।डेढ़ घंटे के एग्जाम में सुबह 0930 बजे से शुरु हुई मॉर्निंग शिफ्ट 11 बजे तक रही।इस दौरान 95 प्रतिशत स्टूडेंट की अटेंडेंस दर्ज हुई,वही दूसरी शिफ्ट 1530 से 1700 बजे तक रही,इसमें स्टूडेंट्स की उपस्थिति 96 प्रतिशत दर्ज हुई।

ऑनलाइन आब्जर्वर किए गए थे नियुक्त,नकलविहीन परीक्षा सम्पन्न कराने के लिए लेंगे तकनीकी का सहारा -

यूनिवर्सिटी के एग्जामिनेशन कंट्रोलर ने दावा किया कि ऑनलाइन एग्जाम के लिए ऑनलाइन आब्जर्वर नियुक्त किए गए है।बिना किसी बाधा के एग्जाम कंडक्ट कराएं जाएंगे।साथ ही एग्जाम के दौरान किसी भी प्रकार की घपलेबाजी से बचने के लिए एग्जाम देने वाले स्टूडेंट्स पर गहन निगरानी की जाएगी।इसके लिए डेडिकेटेड सॉफ्टवेयर में एआई के कांसेप्ट को इम्पलीमेंट करके और ज्यादा इफेक्टिव बनाया गया है।इसके अलावा एग्जाम के लिए विशेष आब्जर्वर बोर्ड का गठन किया गया है और इस लके सहारे निष्पक्ष परीक्षा सम्पन्न हो सकेगी।

स्टूडेंट्स के लिए जारी किए गए थे यह निर्देश -

- एग्जाम में इस बार एमसीक्यू यानी बहुविकल्पीय प्रश्नों के उत्तर देना होगा,टाइम ड्यूरेशन डेढ़ घंटे की होगी,

- एग्जाम शुरु होने से आधे घंटे पहले ही स्टूडेंट्स को लॉगिन करना होगा,

- रफ काम के लिए सादा पेपर, पेन व पेंसिल समेत जरुरी सामान पहले से ही मौके पर रखने होंगे,

-एग्जाम के दौरान हर स्टूडेंट्स को सामान्य कपड़े पहनने के निर्देश जारी हुए है,

- परीक्षा कक्ष में पर्याप्त प्रकाश की व्यवस्था होनी चाहिए, और स्टूडेंट्स को चेहरा कैमरे में स्पष्ट दिखाई देना चाहिए

-एग्जाम को कुशलता से सम्पन्न कराने के मकसद से पहले से ही ऑनलाइन आब्जर्बर नियुक्त किये गये हैं,वह स्टूडेंट्स पर एग्जाम के दौरान निगाह रखेंगे,

-एग्जाम में सिर्फ नॉन प्रोग्रामेबल कलकुलेटर के ही प्रयोग की अनुमति रही,

-यदि कोई स्टूडेंट्स अनफेयर प्रैक्टिस के तहत एग्जाम देता पाया गया तो उसे तत्काल उसे यूएफएम केटेगरी में डालने के निर्देश थे

खबरें और भी हैं...