पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अलीगढ़ में जहरीली शराब से 83 मौतें:लोग मर रहे थे, आबकारी मंत्री जन्मदिन मना रहे थे; भास्कर ने पूछा- इस्तीफा क्यों नहीं देते? बोले- मैं फील्ड पर काम नहीं करता

लखनऊ2 महीने पहलेलेखक: विनोद मिश्र, हिमांशु मिश्र
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। अब तक 83 लोग जान गंवा चुके हैं। चीफ मेडिकल ऑफिसर (CMO) ने 71 शवों के पोस्टमार्टम होने की पुष्टि की है। पूरे प्रकरण पर 'दैनिक भास्कर' ने आबकारी विभाग के सबसे बड़े मुखिया यानी प्रदेश के आबकारी मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री से बातचीत की।

उनकी प्रतिक्रिया जानने के लिए उनके सोशल मीडिया अकाउंट्स को भी खंगाला। मालूम चला कि जब अलीगढ़ में लोग जहरीली शराब से मर रहे थे तब आबकारी मंत्री अपना जन्मदिन मनाने में मशगूल थे। सोमवार को 'दैनिक भास्कर' ने फोन पर मंत्री से पूछा कि इतना बड़ा मामला होने के बाद आप जिम्मेदारी क्यों नहीं लेते हैं? इस्तीफा क्यों नहीं देते?

इस पर मंत्री रामनरेश ने दो टूक कहा- वह जमीन पर काम नहीं करते हैं। जो जमीन पर काम करते हैं। जिनकी जिम्मेदारी है उन पर कार्रवाई हो रही है। पढ़िए भास्कर के सवाल और मंत्री के जवाब...

सोशल मीडिया पर मंत्री-विधायक हंसती हुई तस्वीरें शेयर कर रहे थे
अलीगढ़ में जहरीली शराब से 27 मई की रात तक 25 लोग जान गंवा चुके थे। 28 मई तक ये आंकड़ा 40 के पार हो गया था। इन दो दिनों तक आबकारी मंत्री का एक भी बयान सामने नहीं आया। हमेशा सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले मंत्री इन दोनों दिन अपने सांसदों, मंत्रियों और विधायकों से जन्मदिन की बधाइयां ले रहे थे। प्रदेश के बड़े जिम्मेदार लोग आबकारी मंत्री की हंसती हुई तस्वीरें शेयर कर रहे थे और मंत्री खुद उन सभी का अभिवादन करने में जुटे थे।

खबरें और भी हैं...