• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • Anger Of Shia Muslims Erupted On Taliban, Statement Of All India Shia Personal Law Board, Those Who Support Taliban Do Not Have The Right To Live In India

तालिबान समर्थकों को चेतावनी:तालिबान पर फूटा शिया मुसलमानों का गुस्सा, आल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड का बयान, तालिबान की हिमायत करने वालों को हिंदुस्तान में रहने का हक नही

लखनऊ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड के ज� - Dainik Bhaskar
आल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड के ज�

अफगानिस्तान में तालिबान की हुकूमत और अत्याचार के खिलाफ यूपी के मुसलमानों में गुस्सा बढ़ता जा रहा है। पश्चिमी यूपी के जिन मुस्लिम संगठनों और नेताओं ने तालिबान के हर कदम की तारीफ की थी बुधवार को आल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड ने उन्हें करारा जवाब दिया है।

आल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड के जनरल सेक्रेटरी डॉ मौलाना यासूफ अब्बास ने एक आधिकारिक बयान जारी करते हुए तालिबान के हर एक्शन का कड़ा विरोध किया है। उन्होंने कहा कि जिस हुसैन ने इस्लाम को बढ़ाया, इंसानियत सिखाया उसके झंडों को पैरों तले रौंद कर तालिबान आगे बढ़ रहा है। बावजूद इसके कुछ मुसलमान उसकी तारीफ कर रहे हैं। उनका कहना है कि ऐसे मुसलमानों को हिंदुस्तान में रहने का कोई हक नही है।

हिन्दू और हिंदुस्तान के खिलाफ है तालिबान

मौलाना यासूफ अब्बास ने कहा कि तालिबान को लेकर हिंदुस्तान की कुछ मुस्लिम तंजीमें खुशियां मना रही है। लेकिन ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड तालिबान की मज़ज़्मत करता है। तालिबान हिंदू और हिंदुस्तान के खिलाफ है। तालिबान शिया क़ौम के भी खिलाफ है। कंधे के ऊपर 147 रख कर चलना यह कौन सा इस्लाम है। तालिबान में हुसैनी इस्लाम नहीं यज़ीदी इस्लाम है। यह गले लगने वाला इस्लाम नहीं गला काटने वाला इस्लाम है। हिंदुस्तान में तालिबानी मानसिकता के लोग होश में आए। शिया पर्सनल लॉ बोर्ड तालिबान की हिमायत बर्दाश्त नहीं करेगा।

खबरें और भी हैं...