पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

योगी के गढ़ में केजरी:2022 में आम आदमी पार्टी UP में चुनाव लड़ेगी, केजरीवाल बोले- उत्तर प्रदेश ने अब तक गंदी राजनीति देखी

लखनऊ9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि आम आदमी पार्टी (AAP) 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार उतारेगी। केजरीवाल ने योगी सरकार पर उत्तर प्रदेश को विकास की दौड़ में पीछे ले जाने पर आरोप लगाए।

केजरीवाल ने यह भी कहा, ‘यूपी के लोग दिल्ली क्यों आ रहे हैं? ऐसा इसलिए क्योंकि वहां सुविधाएं नहीं हैं। अगर दिल्ली में सुविधाएं तैयार की जा सकती है तो UP में ऐसा क्यों नहीं हो सकता। UP ने अब तक गंदी राजनीति देखी है। ऐसे में अब उसे नया मौका मिलना चाहिए।’

‘दिल्ली की तरह UP के लोगों को भी सुविधाओं का हक’
केजरीवाल ने सवाल उठाया कि क्या भारत का सबसे बड़ा राज्य सबसे बड़ा विकासशील राज्य नहीं बन सकता? जब संगम विहार में मोहल्ला क्लीनिक खुल सकता है तो लखनऊ के गोमतीनगर में क्यों नहीं खुल सकता। UP में मुफ्त पानी और बिजली, प्राइवेट स्कूलों की तर्ज पर सरकारी स्कूल लोगों को क्यों नहीं मिल सकता? दिल्ली में UP में काफी लोग रहते हैं, हमारी अपील है कि उन्हें UP में भी दिल्ली जैसी सुविधाएं मिलनी चाहिए।

‘उत्तर प्रदेश की जनता पुरानी राजनीति से त्रस्त हो गई है और अब आम आदमी पार्टी के साथ जनता खड़ी होगी। आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में तीसरी बार सरकार बनाई है और दिल्ली में काम करके दिखाया है। दिल्ली के लोगों को मुफ्त बिजली, पानी मिल रहा है। उन्हें मोहल्ला क्लीनिक से इलाज मिल रहा है तो ऐसा गोरखपुर, लखनऊ और UP के अन्य शहरों में क्यों नहीं हो सकता।’

आप के UP प्रभारी पर 11 मामले दर्ज
आम आदमी पार्टी के UP प्रभारी संजय सिंह अगस्त से उत्तर प्रदेश में सक्रिय हैं। वे लगातार कानून व्यवस्था, महिला सुरक्षा, कोरोना की जांच और इलाज में लापरवाही के मामले उठाकर योगी सरकार पर हमलावर हैं। अब तक संजय सिंह पर 11 से अधिक केस भी दर्ज हो चुके हैं।

वहीं केजरीवाल पर पलटवार करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री व प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि उनकी आदत है भ्रमित करने की। वह दिल्ली में बेनकाब हो चुके हैं, उप्र में उनकी दाल गलने से रही। उन्होंने कहा कि आपने सदी के सबसे बड़े संकट कोरोना महामारी के दौरान पूर्वांचल के लाखों लोगों का जो अपमान किया था, उसका जवाब देना चाहिए।