पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

असम की युवती से धोखा:रामपुर के शादीशदा युवक ने फेसबुक पर झूठ बोलकर की दोस्ती, चंडीगढ़ में लिव इन में रहा; गर्भवती हुई तो छोड़कर भाग आया, तलाश में रामपुर पहुंची युवती

रामपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तकमील का आधार कार्ड लेकर युवती गुरुवार को रामपुर पहुंची। - Dainik Bhaskar
तकमील का आधार कार्ड लेकर युवती गुरुवार को रामपुर पहुंची।

उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले में रहने वाले एक युवक ने असम की युवती से फेसबुक के जरिए दोस्ती की। अपने शादीशुदा होने की बात छुपाकर उसे शादी का झांसा दिया और चंडीगढ़ बुला लिया। वहां एक साल तक उसके साथ लिव इन में रहा और जब युवती गर्भवती हुई तो उसे छोड़कर रामपुर भाग आया। गुरुवार को युवती उसे खोजते हुए रामपुर पहुंची और पुलिस से मदद मांगी।

2019 में लड़की से की थी
दोस्तीरामपुर के अजीम नगर थाना क्षेत्र में टांडा डोकंपुरी निवासी तकमील अहमद चंडीगढ़ में रहकर हेयर कटिंग सैलून चलाता था। वहां रहते हुए 2019 में उसका संपर्क फेसबुक के माध्यम से असम की एक लड़की से हुआ। दोनों में दोस्ती हुई और फिर फोन पर बातें होने लगीं। तकमील ने शादी करने का वादा करके लड़की को चंडीगढ़ अपने पास बुला लिया। यहां वह करीब एक साल तक उसके साथ लिव इन में रहा। इस दौरान उसने अपने शादीशुदा होने की बात छुपाए रखी। इस बीच युवती गर्भवती हो गई। तभी लॉकडाउन भी लगा तो बहाने से तकमील रामपुर लौट आया। कुछ दिन तक तो युवती ने उसका चंडीगढ़ में इंतजार किया। लेकिन जब उसने फोन उठाने भी बंद कर दिए तो वह असम लौट गई।

डॉयल 112 को फोन कर मांगी मदद
अपने माता-पिता के घर युवती ने बच्चे को जन्म दिया। इसके बाद वह छह माह तक तकमील के फोन पर आने का इंतजार करती रही। लेकिन जब फोन पर उससे संपर्क नहीं हो सका तो अपने पास मौजूद तकमील का आधार कार्ड लेकर युवती गुरुवार को रामपुर पहुंची। उसकी गोद में उसका छह माह का बच्चा भी था। रेलवे स्टेशन पर उतरते ही उसने डॉयल 112 को फोन कर पूरी कहानी बताई। पुलिस ने उसे महिला हेल्प लाइन टीम के सुपुर्द कर दिया।

बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराया
युवती के बच्चे का स्वास्थ्य ठीक नहीं था। महिला हेल्प लाइन ने तुरंत उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इसके बाद एक टीम को टांडा डोकंपुरी गांव में तकमील की तलाश में रवाना किया गया।

पुलिस देख घर में छुपा
पुलिस टीम को देखकर तकमील घर में छुप गया। उसने अपनी पत्नी से कहलवा दिया कि वह घर पर नहीं है। लेकिन पुलिस ने तलाशी ली तो वह घर में ही मिला। इसके बाद पुलिस उसे महिला शक्ति केंद्र लेकर आई। पता चला कि तकमील पहले से शादीशुदा और दो बच्चों का पिता है।

लड़की बोली-मुझे भी पत्नी का दर्जा दो
काउंसलर चारू चौधरी ने यहां युवती और तकमील की काउंसलिंग की। जिला प्रोबेशन अधिकारी पल्लवी सिंह ने बताया कि प्रेमी के पहले से शादीशुदा होने का पता चलने के बाद युवती को दुख हुआ। लेकिन वह चाहती है कि वह उसे भी पत्नी का दर्जा दे और अपने साथ रखे। इसके लिए उसकी पहली पत्नी तैयार नहीं है। दोनों पक्षों में समझौते की बात हो रही है।

खबरें और भी हैं...